किसान आंदोलन के दो महीने पुरे होने को है और सरकार तारिक पे तारिक दे रही.जैसे सरकार अडिग वैसे किसान अडिग.दोनों अपने-अपने ज़िद्द पर अब तक अड़े है.आज किसान और सरकार के बिच 10 वे दौर बातचीत शुरू हो चुकी है.किसान नेताओं ने साफ़ बोल रखा है सरकार 100 बार भी बात करने बुलाएगी तो हम जायेंगे.उनका कहना है बिल वापिस से कम हमे कुछ भी मंजूर नहीं है.

आज किसान नेता बैठक में जाने से पहले कहा की आज यदि सरकार बात नहीं मानती हैं तो गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में सुनामी आएगी.कहा की सरकार हमारी बात माने या ना माने रैली निकालने की अनुमति दे या न दे हमारी ट्रैक्टर रैली निकलनी तय है.सूत्रों के हवाले से खबर आ रही की सरकार के साथ मीटिंग से पहले आज पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक हो रही है. यह बैठक 11 बजे से विज्ञान भवन की एनेक्सी में हो रही है. बैठक में दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर,आईजी मेरठ और सोनीपत पुलिस के अधिकारी मौजूद हैं.बताया जा रहा इस मीटिंग में रैली को लेकर चर्चा की जाएँगी.

किसान नेता प्रेम सिंह पंगु ने कहा की- आज की मीटिंग से काफी उम्मीदें है शायद सरकार हमारी बात आज मान ले.बता दें पिछली मीटिंग में सरकार ने कहा था कि वो कृषि कानून रद्द करने को लेकर मन बना कर आएगी. अगर आज की मीटिंग सफल नहीं हो पाती है तो 26 तारीख को दुनिया देखेगी. किसानों में बहुत रोष और गुस्सा है. 26 जनवरी को सुनामी आएगी.”