इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दूसरे मैच में ऋषभ पंत और भारतीय टीम को अंपायर के एक फैसले के कारण 4 रनों का नुकसान झेलना पड़ा. ये वाकया भारत की पारी के 40वें ओवर में हुआ.

इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दूसरे मैच में ऋषभ पंत और भारतीय टीम को अंपायर के फैसले के कारण 4 रनों का नुकसान झेलना पड़ा. ये वाकया भारत की पारी के 40वें ओवर में हुआ. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज टॉम कुरेन की गेंद पर ऋषभ पंत ने रिवर्स स्कूप खेला. लेकिन गेंद बल्ले के अंदरूनी किनारे से लगकर बाउंड्री चली गई.

टॉम करेन ने इस दौरान अपील की. अंपायर वीरेंद्र शर्मा ने पंत को LBW करार दिया. पंत ने अंपायर के फैसले को चुनौती दी और DRS लेने का फैसला लिया. रिप्ले में साफ था कि गेंद बल्ले से लगकर ही गई थी. थर्ड अंपायर ने पंत को नॉट आउट दिया. लेकिन पंत को चार रन नहीं मिले और गेंद डेड हो गई.

क्या कहता है आईसीसी का नियम

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के नियम के अनुसार, अंपायर अगर किसी गेंद पर खिलाड़ी को आउट दे देता है तो वह गेंद डेड हो जाती है. फिर उस पर बनने वाले रन मान्य नहीं होते हैं. हालांकि इस घटना के बाद एक बार फिर पूर्व खिलाड़ियों ने आईसीसी के नियम को लेकर सवाल उठाए हैं.