नई दिल्ली: पूरे दिन की थकान के बाद चैन की नींद सोने का मन तो करता ही है. लेकिन ऐसा हो नहीं पाता क्योंकि आपका साथी सोते हुए जोर-जोर से खर्राटे (Snoring) लेता है. इस स्थिति में वो तो आराम सो जाता है क्योंकि उन्हे इन खर्राटों (kharate) की भनक भी नहीं होती है. लेकिन आपकी नींद खराब हो जाती है. ज्यादात्तर ये समस्या थकान के कारण आती है. इसके अलावा सांस लेने में आने वाली रूकावट भी खर्राटों का कारण बनती है. जब हमारे गले के पीछे के हिस्से संकरे हो जाते हैं तब ऑक्सिजन संकरी जगह से गुजरती है. जिससे आसपास के टिशू वाइब्रेट होने लगते हैं। और ये खर्राटे का कारण बनते हैं. आइये इससे बचने के लिए आपको कुछ उपाय बताते हैं (Home Remedies for Snoring).

पेपरमिंट ऑयल
पेपरमिंट ऑयल खर्राटों के लिए बहुत फायदेमंद है. अगर आपको खर्राटों की समस्या है तो पेपरमिंट ऑयल की दो से तीन बूंदें हाथ में लेकर रोजाना इसे सूंघें. या आप चाहे चो गर्म पानी में पेपरमिंट ऑयल की कुछ बूंदे डालकर भाप भी ले सकते हैं. ऐसा करने से नाक की नली खुलती हैं. जिससे खर्राटें नहीं आते हैं.

विटामिन सी टैबलेट
विटामिन सी के सेवन से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है. यदि आप कभी-कभार खर्राटे लेते हैं तो इस स्थिति मे आप लगभग एक महीने रोजाना विटामिन सी के टैबलेट का सेवन करें. ऐसा करने से कुछ ही दिनों में खर्राटों की शिकायत दूर हो जाएगी. इसके अलावा आप विटामिन सी युक्त फल और सब्जियां भी खा सकते हैं.
मेथी पाउडर
मेथी में ऐंटीऑक्सीडेंट और ऐंटीवायरल के गुण पाए जाते हैं. ये खर्राटों को ठिक करने के साथ-साथ पेट को भी साफ करता है. यदि आपका पाचन तंत्र मजबूत है तो आपको कभी भी खर्राटों की शिकायत नहीं होगी. रोजाना रात में सोने से पहले आधा चम्मच मेथी पाउडर हल्के गुनगुने पानी के साथ पीएं. इससे खर्राटे की आवाज बंद हो जाएगी.