एक लम्बे अंतराल के बाद जिंदगी फिर से पटरी पर दौड़ रही है , अगर आपकी रुकी हुयी दौड़ एक अंतराल के बाद पटरी पर है और घुटनो में दर्द का वजह बन रही है तो हम आपको बताएँगे ऐसे 5 मददगार टिप्स जिससे आप रनिंग के दौरान होने वाले दर्द से निजात पा सकते है।

घुटनो का दर्द रनर्स की आम समस्या है। घुटने के दर्द को अक्सर ‘रनर्स घुटने’ (Runner’s Knee) कहा जाता है. यदि आपके भी रनिंग से घुटने में दर्द होता है तो आपको रनिंग करने से पहले आपको सही फॉर्म के साथ कुछ टिप्स फॉलो करने चाहिए. साथ ही रनिंग करते समय कुछ बातों का ख्याल रखना चाहिए।

प्रोफेशनल एथलीट हो या बिगिनर. जोड़ों के दर्द को मैनेज करना (Managing joint pain) रनर्स के लिए मुश्किल भी हो सकता है।

-अगर आप पहली बार या की महीनों के बाद फिर से रनिंग स्टार्ट कर रहे हैं तो रनिंग शुरु करने से पहले कुछ देर वॉक करें. अगर पहले दिन से आप अपने शरीर को अधिक लोड देंगे तो इससे शरीर में दर्द या खिंचाव आ सकता है।

-अधिक वजन होने के कारण भी दौड़ते समय घुटने में दर्द होता है इसके लिए जरूरी है कि आप सबसे पहले अपना वजन कम करें और फिर रनिंग करें. इसके लिए आप एक्सरसाइज के साथ ही हेल्दी डाइट भी लें।

-रनिंग करते समय एक बात का ख्याल रखें कि घुटनों को स्थिर रखें और ऊपर लेकर न आएं।

-रनिंग करते समय अपनी बॉडी को आगे की तरह को झुकाकर दौड़े . इससे शरीर का भार घुटनों पर नहीं पड़ेगा और दर्द भी नहीं होगा. जब भी आपका पैर आपके शरीर के सामने आता है तो इसका मतलब है कि आप रनिंग पर ब्रेक लगा रहे हैं जिसका सीधा असर आपके घुटने पर पड़ता है।

घुटनों में दर्द का सबसे बड़ा कारण रनिंग (running) करते समय एड़ी का सहारा लेते हैं. ऐसे में अपने पैरों को पीछे की तरफ स्विंग करे आगे को नहीं. अपनी एड़ियों को हमेशा जमीन या ट्रैक से कुछ ऊपर रखें ताकि एड़ी से शॉक घुटने तक न लगे।