हरिद्वार महाकुंभ में आज दूसरा शाही स्नान हो रहा है. इस शाही स्नान में तमाम अखाड़ों के साधु-संत आस्था की डुबकी लगा रहे हैं. भीड़ होने की वजह से कई जगहों पर कोरोना प्रोटोकॉल के नियम भी टूटते नजर आए.

हरिद्वार महाकुंभ में आज दूसरा शाही स्नान हो रहा है. इस शाही स्नान में तमाम अखाड़ों के साधु-संत आस्था की डुबकी लगा रहे हैं. हजारों की संख्या में आम लोगों की भीड़ भी डुबकी लगाने के लिए जुटी हुई है. नेपाल के अंतिम राजा ज्ञानेंद्र वीर सिंह भी हरिद्वार पहुंचे हैं. वो भी संतों के साथ शाही स्नान करेंगे.

भीड़ होने की वजह से कई जगहों पर कोरोना प्रोटोकॉल के नियम भी टूटते नजर आए. न सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है और न ही कोई मास्क लगाए नजर आ रहा है. कुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल का कहना है कि शाही स्नान में सबसे पहले अखाड़ों को अनुमति दी गई, उसके बाद 7 बजे से आम लोगों को शाही स्नान करने की इजाजत है.

आईजी बोले- आज नियमों का पालन कराना मुश्किल

कुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल ने कहा कि हम लोगों से लगातार कोविड नियमों का पालन करने की अपील कर रहे हैं, लेकिन भारी भीड़ के कारण आज चालान जारी करना व्यावहारिक रूप से संभव नहीं है. घाटों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करना बहुत मुश्किल है, अगर हम सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएंगे तो भगदड़ जैसी स्थिति हो सकती है.

शाही स्नान से पहले 1333 पॉजिटिव केस
शाही स्नान से एक दिन पहले उत्तराखंड में कोरोना के डरावने वाले आंकड़े सामने आए हैं. पिछले 24 घंटे में 1,333 संक्रमण के नए केस सामने आए जबकि 8 लोगों की मौत हो गई. वहीं देहरादून में 582, हरिद्वार में 386, नैनीताल में 122 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. हर की पौड़ी पर रविवार को स्थलीय परीक्षण के दौरान नौ लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए.