सोने की कीमत 56 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर के पार पहुंच की है। यह रोज नई ऊंचाई पर पहुचं रहा है। हालांकि, विशेषज्ञों का कहना है कि सोना आने वाले दिनों में नए शिखर पर पहुंच सकता है। विशेषज्ञों ने इसके दिवाली तक 55 हजार रुपये तक पहुंचने की उम्मीद जताई थी। जबकि यह अगस्त में ही इसके आगे पहुंच गया है। उनका कहना है कि अब यह दिवाली तक 60 हजार के स्तर पर पहुंच सकता है

क्या अभी निवेश करना है सही?

जेपी मॉर्गन की एक रिपोर्ट के मुताबिक अगले दो साल में सोना 70 हजार रुपये के पार पहुंच सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना संकट खत्म होने के बाद भी दुनिया का आर्थिक संकट तुरंत खत्म होने वाला नहीं है। ऐसे में अर्थव्यवस्था में उथल-पुथल के बीच सोने की मांग में आगे भी तेजी बनी रहने की उम्मीद है।

सोने से अच्छी कमाई 
सोने ने रुपये के रूप में हमेशा बेहतर लाभ दिया है। वर्ष 2001 के बाद से सोने ने प्रतिवर्ष 13 प्रतिशत लाभ दिया है। पिछले 15 वर्षों की बात करें, तो सोने ने प्रतिवर्ष 14.7 प्रतिशत का लाभ दिया है। पिछले 10 वर्षों में सोने ने प्रति वर्ष 10.1 प्रतिशत और पिछले पांच वर्षों में प्रति वर्ष 12.8 प्रतिशत का लाभ दिया है। इसलिए यह समझना आसान है कि पूंजी या बचत का एक हिस्सा स्वर्ण में ही लगता है। एक खूबी यह भी है कि इसमें निवेश से किसी का जीवन दांव पर नहीं लगता।