रुस द्वारा कोरोना वायरस के वैक्सीन की घोषणा के बाद सोने-चांदी की कीमतों में गिरावट देखने को मिली। वहीं, डब्ल्यूएचओ द्वारा सवाल उठाने और डॉलर की साख में सुधार की वजह से सोने के रेट में इस सप्ताह काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। 21 अगस्त को सोना 346 रुपये  सस्ता होकर 51973 रुपये पर बंद हुआ। 17 से 21 अगस्त के बीच 5 कारोबारी दिनों में सोना 901 रुपये और चांदी 1660 रुपये तक सस्ती हो चुकी है।

अभी और सस्ता हो सकता है गोल्ड

अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व ने अर्थव्यवस्था की रिकवरी को लेकर अच्छी उम्मीद बंधाई है। इस वजह से अमेरिकी डॉलर में बड़ी गिरावट के बाद अब सुधार आ रहा है। इसका असर बुलियन मार्केट यानी सोने और चांदी की कीमतों पर दिख रहा है। बाजार के जानकारों का मानना है कि आने वाले दिनों में सोने की कीमतें और गिर सकती है। अमेरिकी डॉलर में आ रही मजबूती का असर सोने पर दिखेगा। साथ ही, दुनियाभर में फिर से निवेशकों ने शेयर बाजार की ओर रुख किया है।

उच्चतम स्तर से 4281 रुपये तक फिसल चुका है सोना

सर्राफा बाजार में सोने का हाजिर भाव अपने उच्चतम स्तर से 4281 रुपये प्रति 10 ग्राम तक फिसल चुका है। सात अगस्त को सोना 56126 रुपये पर बंद हुआ था। इस दिन सुबह यह ऑलटाइम हाई रिकॉर्ड स्थापित करते हुए 56254 रुपये पर खुला था। जहां तक चांदी की बात है तो इस दौरान चांदी 8639 रुपये प्रति किलोग्राम कमजोर हुई। सात अगस्त को चांदी 75013 रुपये प्रति किलोग्राम के रेट से बंद हुई थी।

अगस्त के पहले कारोबारी सप्ताह में सोना 2302 रुपये उछला

अगस्त के पहले सप्ताह में सोने की चमक जहां बढ़ी तो चांदी और ज्याद मजबूत हुई। 3 अगस्त को सोना 53976 रुपये प्रति 10 ग्राम पर एक नए रिकॉर्ड के साथ बंद हुआ और अंतिम कारोबारी दिवस यानि सात अगस्त को सर्वोच्च शिखर पर जा पहुंचा। इस दिन सोने का हाजिर भाव 56126 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। जहां तक चांदी की बात है तो इसका हाजिर भाव इस दौरान 64770 रुपये से 75013 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गया।

दूसरे सप्ताह में सोने-चांदी की चमक हुई फीकी

10 से 14 अगस्त के बीच दोनों धातुओं ने अपनी चमक खो दी। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच रुस द्वारा वैक्सीन लॉन्च करने की खबर के बाद दुनिया भर के निवेशकों का रुझान सोने-चांदी से हटा और मुनाफावसूली के चलते दोनों धातुओं ने पहले हफ्ते की बढ़त गंवा दी। 10 अगस्त को सोने का हाजिर भाव 55515 रुपये प्रति 10 ग्राम था जो 17 अगस्त तक आते-आते 2641 रुपये गिरकर 52874 रुपये रह गया। वहीं चांदी 5840 रुपये कीका झटका सहकर 67768 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई।