कासगंज से एक नाबालिग दलित लड़की के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. लड़की ने आरोप लगाया कि उसका अपहरण करने के बाद गैंगरेप किया गया.

उत्तर प्रदेश के कासगंज जनपद से एक दलित नाबालिग किशोरी के साथ हैवानियत का मामला सामने आया है. लड़की के साथ तीन युवकों ने बंधक बनाकर उसके साथ गैंगरेप किया. बाद में आरोपी लड़की को गांव के पास छोड़कर फरार हो गए. इस मामले में इलाके की पुलिस ने एसपी के आदेश पर तीन दिन बाद मामला दर्ज किया. लड़की को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया है. फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की जांच कर रही है.

यह मामला सुन्नगढ़ी थाना क्षेत्र के वस्तोली गांव का है, बताया जा रहा है कि 11 फरवरी की दोपहर तीनों आरोपी नाबालिग को बहला-फुसला कर ले गए. जहां कमरे में बंद लड़की के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया. लड़की ने पुलिस को बताया कि वो तीनों से रहम की भीख मांगती रही. लेकिन युवकों ने उसकी एक न सुनी और तीनों ने बारी-बारी उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया.

नाबालिग दलित लड़की के साथ गैंगरेप

इस मामले में पुलिस ने तीन दिन बाद एफआईआर दर्ज कर किशोरी को चिकित्सीय परीक्षण के लिए भेजा. पुलिस ने तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं. सीओ सहावर शैलेंद्र परिहार का कहना है कि लड़की की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है.

मेडिकल के बाद 164 के तहत मामला दर्ज होगा फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी. लड़की की तहरीर के आधार पर है कि इसको दो लड़के ले गए और एक लड़के घर रुके और फिर लड़की तीन दिन बाद घर आई.