26 जनवरी पर हुई ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा के चलते अब गाजीपुर बार्डर पर दिल्ली से गाजियाबाद जाने वाला रास्ता भी बंद कर दिया गया है और पैरा मिलिट्री फोर्स भी लगी है. जबकि किसान नेताओं ने 26 जनवरी को होने वाली हिंसा पर अपनी गलती भी मानी है.कहा इस ट्रक्टर रैली से बोहोत कुछ सिखने को मिला हैं.

दिल्ली से ग़ाज़ियाबाद जाने वाली सभी रास्तो को बंद रखा गया है.सभी जगहों पर पैरामिलिट्री की तैनाती की गयी है.गाजीपुर बार्डर पर बचे लोगों के बीच 26 जनवरी को होने वाली हिंसा पर ही चर्चा हो रही है. गाजीपुर बार्डर के किसान नेता भी मानते हैं कि कहीं कुछ गलती रह गई. दिल्ली से गाजियाबाद जाने वाली सड़क NH9 पर सन्नाटा है.

ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर बैठे किसानो से बात करने पर किसानो ने माना की कुछ गलती हो गयी है.भारतीय किसान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष जसबीर सिंह ने कहा, ”कल की गलतियों से हमें भी बहुत कुछ सीखने को मिला है इसके लिए बैठक कर रहे हैं कि ऐसी गलती दोबारा न हो.” उधर, गाजीपुर बार्डर के किसान नेताओं का दावा है कि पुलिस ने भी किसानों के करीब चार सौ ट्रैक्टरों और गाडि़यों को तोड़ा है. कई टूटे ट्रैक्टर अब भी गाजीपुर बार्डर पर खड़े हैं.