कृषि कानून के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन को 16 दिन चले हैं। किसानो ने पहले ही 12 दिसंबर शनिवार को हाईवे ब्लॉक करने का अयलान करदिया था। शनिवार को किसान आंदोलन लेगा नया रुख , दिल्ली के दो नेशनल हाईवे ब्लॉक करने की चल रही है तयारी। किसान दिल्ली-आगरा एक्सप्रेसवे (yamuna express highway) और दिल्ली-जयपुर हाइवे (Delhi Jaipur highway) को ब्लॉक करेंगे।

किसान आंदोलन में और तेज़ी लाने के लिए पंजाब के अलग अलग इलाको से करीब 50 हज़ार किसान दिल्ली में किसान आंदोलन में जुड़ने के लिए रावण हो चुके हैं। इधर सरकार भी किसानो के हर कदम से जूंझने के लिए तैयार है। इसके तहत बीजेपी देश भर में चौपाल, प्रेस कॉन्फ्रेंस और किसान सम्मेलन का आयोजन करेगी।

अब तक किसान करनाल और पनीअपथ टोल प्लाजा पर घेराव कर चुके हैं। किसानो ने पहले ही एलान किया था की शनिवार 12 दिसम्बर को हाईवे करेंगे ब्लॉक वाहनों का होगा टोल फ्री। इसके तहत किसानों ने शुक्रवार रात बसताड़ा टोल प्लाजा और पानीपत टोल प्लाजा को कब्जे में लेकर तोड़ फोड़ की। प्लाजा में लगे बैरियर को भी तोड़ दिया. यहां पर वाहनों की आवाजाही मुफ्त में हो रही है। घटना के दौरान मौके पर कोई भी पुलिसकर्मी मौजूद नहीं था।