कुछ दिन पहले ही Facebook से 53 करोड़ से अधिक लोगों के डेटा लीक हुए थे. इस डेटा लीक को लेकर Facebook खबरों में बना ही है कि दूसरे बड़े डेटा लीक की खबर आ रही है. इस बार डेटा लीक जॉब हंट साइट Linkedin से हुआ है. रिपोर्ट के अनुसार 50 करोड़ से अधिक LinkedIn यूजर्स के डेटा लीक हुए हैं.

CyberNews के अनुसार Linkedin के 50 करोड़ से अधिक लोगों के डेटा डार्क वेब पर उपलब्ध है. इस डेटा में यूजर्स के LinkedIn ID, पूरा नाम, ई-मेल एड्रेस, फोन नंबर, जेंडर, दूसरे सोशल मीडिया प्रोफाइल के लिंक्स, वर्क रिलेटेड डेटा शामिल है. रिपोर्ट में ये साफ नहीं है कि इस डेटा में अपडेटेड Linkedin प्रोफाइल है या पिछले डेटा लीक के ही प्रोफाइल शामिल है.

इस डेटा ब्रीच पर Linkedin ने कहा है कि इस डेटा लीक में वो सभी जानकारियां ही शामिल है जो पब्लिकली व्यूऐबल है. मेंबर्स LinkedIn पर भरोसा रखते हैं इस वजह से वो भरोसा को बनाए रखने के लिए एक्शन लेंगे. Linkedin के अनुसार उसने सेल पर रखे डेटा को जांचने के बाद पाया कि इसमें कई डेटा दूसरे वेबसाइट और कंपनी से भी ली गई है. इसमें पब्लिक व्यूऐबल में मौजूद LinkedIn का डेटा भी शामिल है. इसमें किसी भी LinkedIn के प्राइवेट मेंबर का डेटा शामिल नहीं है.

अपने मेंबर की सुरक्षा के लिए और डेटा का मिसयूज करने वालों के खिलाफ हम कड़ा एक्शन लेंगे. माइक्रोसॉफ्ट ओन्ड साइट LinkedIn ने बताया कि वो किसी भी टर्म्स ऑफ सर्विस का उल्लंघन नहीं होने देंगे.

इटालियन प्राइवेसी वॉचडॉग मे Linkedin डेटा ब्रीच पर इंवेस्टिगेशन करना शुरू कर दिया है. Bloomberg को उन्होंने बताया कि वो इस मामले की जांच कर रहे है. इसमें वो देखेंगे किन यूजर्स का डेटा लीक हुआ है. इस लीक में आईडी, फूल नेम, ईमेल एड्रेस वगैरह शामिल है.

CyberNews के अनुसार इस डेटा का फायदा साइबर क्रिमिनल्स उठा सकते हैं. इसकी मदद से वो यूजर्स को फिशिंग का शिकार बना सकते हैं. इस डेटा में 500 मिलियन ईमेल्स शामिल है. इस से बचने के लिए यूजर्स को Linkedin से जुड़े अकाउंट और पासवर्ड को चेंज करने को कहा गया है.