दिल्ली में हर दूसरा शख़्स कोरोना वायरस से संक्रमित हुआ था? दिल्ली के अब तक के सबसे बड़े सीरो सर्वे की रिपोर्ट आज 3 बजे जारी होगी. इसे स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन जारी करेंगे. सूत्रों के हवाले से रिपोर्ट किया था कि 24 जनवरी को रिपोर्ट किया था. दिल्ली के 5वें और अब तक के सबसे बड़े सीरो सर्वे के शुरुआती रुझानों के मुताबिक दिल्ली में एक ज़िले में 60 प्रतिशत से ज़्यादा लोग संक्रमित हो चुके थे जबकि बाकी जिलों में 50 फ़ीसदी से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण का शिकार हो चुके थे.

दिल्ली में 10 से 23 जनवरी के बीच 28,000 से ज़्यादा लोगों का सैंपल लेकर अब तक का सबसे बड़ा सीरो सर्वे किया गया था. इस सर्वे की रिपोर्ट मंगलवार को जारी की जाएगी.

 

What Is Coronavirus? | Johns Hopkins Medicine

इस सर्वे के शुरुआती रुझानों से पता चला था कि दिल्ली में एक ज़िले में 60% ऐसे लोग पाए गए जिनमें कोरोना के ख़िलाफ़ एंटीबाडी मिली हैं. यानी वे जाने-अनजाने में कोरोना से संक्रमित होकर ठीक भी हो गए, जबकि बाकी जिलों में भी 50% से ज़्यादा ऐसे लोग मिले जो कोरोना वायरस के संपर्क में आए और ठीक भी हो गए.

अंदाज़ा इस तरह से लगाया जा रहा की दिल्ली की आधी से ज्यादा आबादी कोरोना के संपर्क में आकर ठीक भी हो चुकी है. तो सवाल यह है कि क्या दिल्ली में कोरोना के ख़िलाफ़ हर्ड इम्युनिटी आ गई है? हर्ड इम्युनिटी का मतलब कोरोना के खिलाफ एक तरह की आंतरिक सुरक्षा से है, क्योंकि व्यक्ति के शरीर में कोरोना के खिलाफ एंटीबॉडीज बन गई हैं क्योंकि वो वायरस/बीमारी के संपर्क में आ चुका है. इस सीरो सर्वे के नतीजे कल सामने आएंगे.