सरकारी अस्पताल में इलाज करा रहे है कमजोर वर्ग के लोगों और हर जरुरतमंदों को ‘रेमडेसिविर‘ उपलब्ध कराई जाये। यह बातें सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उप्र के सभी सरकारी अस्पतालों में ‘रेमडेसिविर‘ की बड़ी खेप भेजी गई है। संसाधनों में कोई कमी नहीं है, अस्पताल प्रबंधन पूरी तन्मयता से इलाज करें। लापरवाही किसी भी हालात में बर्दाश्त नहीं की जायेगी। कहाकि अस्पताल में इलाज करा रहे कमजोर वर्ग और हर जरुरतमंदों को ‘रेमडेसिविर‘ तत्काल प्रभाव से उपलब्ध करायी जाय।
ऑक्सीजन व दवाओं की न होने पाए कालाबाजारी
मुख्यमंत्री ने निर्देशित किया कि सभी जनपदों में ऑक्सीजन व जीवन रक्षक दवाओं की सुचारु आपूर्ति बनी रहे। यह सुनिश्चित किया जाए कि इनकी कालाबाजारी न होने पाए। इसके लिए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन व पुलिस विभाग संयुक्त रूप से मॉनिटरिंग करें।
उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड संक्रमित मरीजों को समय से मेडिकल किट हर हाल में उपलब्ध करायी जाए। मेडिकल किट में न्यूनतम सात दिन की समस्त निर्धारित दवाएं होनी चाहिए और उनसे निरन्तर व नियमित संवाद स्थापित किया जाए। आगे कहा कि ‘रेमडेसिविर‘ या ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ एनएसए या गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की जाये।