कोरोना के खिलाफ लड़ाई में पूरे देश में वैक्सीनेशन की मुहिम को गति देने की कोशिश की जा रही है. इसी कड़ी में देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार से ड्राइव इन वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया जा रहा है. इस अभियान के तहत लोग अपनी गाड़ियों में बैठे-बैठे ही वैक्सीन लगवा सकेंगे. देश के कई दूसरे हिस्सों में इस प्रकार की पहल की जा चुकी है.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मौजूदगी में होगी शुरुआत

26 मई को इस अभियान की शुरुआत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मौजूदगी में द्वारका इलाके में स्थित वेगास मॉल से होगी. कार में टीकाकरण के इस अभियान के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है. टीका लगवाने के बाद लोगों को आधे घंटे तक कार में ही बैठकर इंतजार करना होगा. ऐसा इसलिए करना होगा ताकि पता चल सके की वैक्सीन लगवाने के बाद किसी व्यक्ति को कोई परेशानी तो नहीं हो रही है. ड्राइव में वैक्सीन लगवाने के इस अभियान से वैक्सीनेशन सेंटर्स पर होनी वाली भीड़ से बचा जा सकेगी. साथ ही कार के अंदर बैठे होने के कारण वैक्सीन लगवाने आए लोगों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अपने आप ही हो जाएगा. कई बार वैक्सीनेशन सेंटर्स में उपजी भीड़ के कारण सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ने की तस्वीरें हम कई बार देख चुके हैं.

बुजुर्गों और दिव्यांगों को होगी सुविधा

इसके अलावा चलने फिरने में परेशानी महसूस करने वाले बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए भी ड्राइव इन वैक्सीनेशन की ये सुविधा बेहद उपयोगी साबित होगी. दिल्ली सरकार इस प्रयोग के सफल रहने पर इसे दूसरे इलाकों में भी दोहरा सकती है. हालांकि  वैक्सीन की कमी को लेकर टीकाकरण अभियान का अपेक्षित तेजी न पकड़ पाना दिल्ली सहित पूरे देश के लिए चिंता का सबब बना हुआ है.