नई दिल्ली: आज से 73 साल पहले आधी रात को भारत दो हिस्सों में बंट गया था. भारत को ब्रिटिश हुकूमत से आज़ादी तो मिल गई.लेकिन इसकी क़ीमत भारत ने पाकिस्तान के रूप में चुकाई. इसलिए आज के दिन को पाकिस्तान में आजादी के दिन के रूप में मनाया जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि आज़ादी मिलने से कुछ दिन पहले तक भारत में क्या-क्या घटनाक्रम हो रहे थे और भारत के बंटवारे और आज़ादी के सूत्रधार क्या कर रहे थे? ये किरदार हैं भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू, महात्मा गांधी और मोहम्मद अली जिन्ना (Md ali Jinnah)

भारत के अंतिम Viceroy का नाम था Lord Mountbatten.Lord Mountbatten ने ही भारत के बंटवारे की रूप रेखा तय की थी. Lord Mountbatten जवाहर लाल नेहरू को सिद्धांतों पर चलने वाला नेता मानते थे.लेकिन उनकी राय में नेहरू के सामने जब कोई मज़बूती से अपनी राय रखता था तो वो तुरंत झुक भी जाते थे. जबकि भारत के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को वो एक समझदार और अपनी बात पर मज़बूती से अड़े रहने वाला नेता मानते थे. मोहम्मद अली जिन्ना के बारे में उनकी राय ये थी कि वो बहुत अड़ियल हैं और उन पर किसी की बात का कोई असर नहीं होता.