JEE Main & NEET 2020: आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार से सितंबर में होने वाली संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE)  और राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) को रद्द करने की अपील की है। सिसोदिया ने यह अपील शनिवार को उस वक्त की जब जेईई मेन में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों में से 90 फीसदी से ज्यादा अभ्यर्थियों ने अपने प्रवेश पत्र डाउनलोड कर चुके थे।

मनीष सिसोदिया ने ट्वीट करते हुए कहा कि केंद्र सरकार जेईई और नीट परीक्षा के नाम पर लाखों लोगों के जीवन से खिलवाड़ कर रही है। केंद्र से मेरी अपील है कि इस साल ये दोनों परीक्षाएं रद्द कर दी जाएं और इस साल एडमिशन के लिए कोई वैकल्पिक व्यवस्था की जाए। इस भीषण आपदा के दौर में कोई बड़ा कदम उठाने की जरूरत है

उन्होंने कहा कि एडमिशन के लिए केवल नीट और जेईई के बारे में सोचना बहुत संकुचित और अव्यवहारिक सोच हैं।

उन्होंने आगे लिखा, ‘दुनियाभर की शैक्षिक संस्थाएं इस साल एडमिशन के लिए नई विधियों को अपना रही हैं। ऐसे में हम भारत में ऐसा क्यों नहीं कर सकते हैं? एडमिशन के लिए बच्चों के जीवन को खतरे में डालना क्या यह समझदारी की बात है?’

उन्होंने कहा कि जेईई-एनईईटी के अलावा हजारो और दूसरे विकल्प भी हो सकते हैं।

दो दिन पहले नोटिस जारी कर एनटीए ने बताया था कि जेईई मेन (अप्रैल) का आयोजन 1 सितंबर से 6 सितंबर 2020 तक किया जाएगा। इस परीक्षा के लिए अभी तक 649223 छात्रों ने प्रवेश पत्र डाउनलोड कर चुके हैं। इस परीक्षा में कुल 858073 छात्रों रजिस्ट्रेशन कराया था।

वहीं एनईईटी 2020 (यूजी) की परीक्षा 13 सितंबर 2020 को होगी। इस परीक्षा के लिए देशभर से 15,97,433 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया है।

NEET (UG) 2020 Admit Card: एनटीए अगले सप्ताह जारी कर सकता है नीट के एडमिट कार्ड