इस समीक्षा बैठक में पीएम मोदी के साथ कैबिनेट सेक्रेटरी, पीएम मोदी के मुख्य सचिव, स्वास्थ्य सचिव डॉ. विनोद पॉल समेत अन्य अधिकारी मौजूद हैं. इस बैठक में कोरोना के बढ़ते मामले और वैक्सीनेशन अभियान को लेकर चर्चा की जा रही है. देश में बढ़ते कोरोना के मामलों के मद्देनजर एहतियात को लेकर भी मीटिंग में चर्चा हो रही है.

देश में कोरोना महामारी के फैलते प्रकोप के बीच पीएम नरेंद्र मोदी उच्च स्तरीय बैठक कर रहे हैं. इस समीक्षा बैठक में पीएम मोदी के साथ कैबिनेट सेक्रेटरी, पीएम मोदी के मुख्य सचिव, स्वास्थ्य सचिव डॉ. विनोद पॉल समेत अन्य अधिकारी मौजूद हैं. इस बैठक में कोरोना के बढ़ते मामले और वैक्सीनेशन अभियान को लेकर चर्चा की जा रही है. देश में बढ़ते कोरोना के मामलों के मद्देनजर एहतियात को लेकर भी मीटिंग में चर्चा हो रही है.

देश में बढ़ रहा कोरोना का प्रकोप

कोरोना के लोकर वैक्सीनेशन अभियान जारी है लेकिन फिर भी देश में कोरोना के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं. पिछले 24 घंटे में कोरोना के  93,249 नए मामले सामने आए हैं जबकि कोरोना के चलते 513 लोगों की मौत हुई है. हालांकि पिछले 24 घंटे में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 60,048 है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के  आंकड़ों के मुताबिक देश में अबतक कोरोना के कुल 1,24,85,509 मामले रिपोर्ट किए गए हैं. कोरोना से देश में अबतक ठीक होने वालों का आंकड़ा 1,16,29,289 हो गया है. वहीं देशभर में सक्रिय मामलों की बात करें तो यह संख्या 6,91,597 है. कोरोना ने देश में अबतक 1,64,623 लोगों की जान ली है. अबतक कुल 7,59,79,651 कोरोना वैक्सीन डोज दी गई है.

आ सकते हैं 1.4 करोड़ से ज्यादा मामले

कोरोना वायरस का मौजूदा ट्रेंड डराने वाला है. बेंगलुरु स्थि‍त इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (IISC) के एक अनुमान के मुताबिक जिस तरह से मौजूदा समय में कोरोना के मामले सामने आए रहे हैं. अगर यह सिलसिला जारी रहा तो मई महीने के अंत तक देश में कोरोन  संक्रमितों के संख्या 1.4 करोड़ के पार हो सकती है. इस दौरान केस लोड करीब 3.2 लाख होगा.