दिल्ली में कोरोना वायरस (Coronavirus in Delhi) के बढ़ते संक्रमण के बीच उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि कोविड-19 के ज्यादातर मरीज घर में ही आइसोलेशन में ठीक हो रहे हैं.

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस (Coronavirus in Delhi) का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है और अस्पतालों में बेड की समस्या सामने आ रही है. इस बीच दिल्ली सरकार ने कोरोना मरीजों के लिए आगामी कुछ दिन में राष्ट्रीय राजधानी के अस्पतालों और कोविड केंद्रों में करीब 2700 अतिरिक्त बिस्तरों की व्यवस्था की जाएगी. इस बात की जानकारी दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने मंगलवार को दी.

2 हफ्ते में तीन गुना बढ़ाए हैं बेड: सिसोदिया

मनीष सिसोदिया ने कहा, ‘कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं और ऐसा लग रहा है आंकड़ा 28-30 हजार तक पहुंच जाएगा. दिल्ली सरकार लोगों को बेड दिलाने में बहुत तेजी के साथ काम कर रही है. सीएम के आदेश पर मैं खुद कई अस्पतालों का दौरा कर चुका हूं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘3 अप्रैल को 6071 बेड थे और इस वक्त 19101 बेड मौजूद हैं. हमने दो हफ्ते में तीन गुना बेड बढ़ाए हैं.’

कुछ दिन में बढ़ाए जाएंगे 2700 बेड

मनीष सिसोदिया ने कहा, ‘दिल्ली में अभी 2500 बेड खाली हैं और हम तेजी से बेड बढ़ाने पर काम कर रहे हैं. आगामी कुछ दिनों में 2,700 और बिस्तरों का प्रबंध किया जाएगा.’ उन्होंने आगे कहा, ‘कोविड-19 के ज्यादातर मरीज घर में ही आइसोलेशन में ठीक हो रहे हैं. जिन लोगों को अस्पताल में भर्ती किए जाने की आवश्यकता है, मैं उनसे अपील करता हूं कि वे बेड की उपलब्धता के बारे में ऐप के जरिए पहले पता कर लें और इसके बाद अस्पताल जाएं.’

दिल्ली में हर तीसरा नमूना निकल रहा संक्रमित

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार रात 10 बजे से 26 अप्रैल की सुबह पांच बजे तक छह दिन का लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है. दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस के एक दिन में सर्वाधिक 25,462 नए मामले सामने आए और लोगों के संक्रमित पाए जाने की दर बढ़कर 29.74 प्रतिशत हो गई है. यानी शहर में जिन नमूनों की जांच की जा रही है, उनमें से हर तीसरा नमूना संक्रमित पाया जा रहा है.