सोमवार को मुंबई में कोरोना से मौत के तीन मामले सामने आए जबकि 399 नए संक्रमित पाए गए. यह पिछले एक महीने में कोरोना से मौत का न्यूनतम आंकड़ा है. मुंबई में कोरोना के सक्रिय मामले 5335 हैं जबकि यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 11393 हो गई है.

महाराष्ट्र में कोरोना के चलते मौत के मामलों में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई है. सोमवार को मुंबई में कोरोना से मौत के तीन मामले सामने आए जबकि 399 नए संक्रमित पाए गए. यह पिछले एक महीने में कोरोना से मौत का न्यूनतम आंकड़ा है. मुंबई में कोरोना के सक्रिय मामले 5335 हैं जबकि यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 11393 हो गई है.

कोरोना के चलते मौत से गिरावट के मामलों को लेकर बीएमसी की तरफ से ट्वीट किया गया है, ”मुंबई में कोरोना से मरने वाले रोजाना के आंकड़ों में कमी दर्ज की गई है. पिछले 24 घंटे में कोरोना से मौत के सिर्फ तीन मामले सामने आए हैं. मुंबई में यह पिछले एक महीने में मौत का सबसे कम आंकड़ा है. हर एक जान की कीमत है. हम तब तक नहीं रुकेंगे जब तक मौत के आंकड़े शून्य नहीं हो जाते हैं. आइए मिलकर मिशन जीरो के लिए काम करें.”

कोरोना वैक्सीनेशन के लिहाज से भी यह दिन महाराष्ट्र के लिए काफी अहम रहा. फ्रंटलाइन वर्कर्स और स्वास्थ्यकर्मियों के टीकाकरण के टारगेट का 83 प्रतिशत वैक्सीनेशन पूरा कर लिया गया है. बीएमसी के अतिरिक्त निगम कमीश्नर सुरेश काकानी ने भी सोमवार को वैक्सीन की डोज ली. उन्हें बीवाईएल नायर अस्पताल में वैक्सीन लगाई गई. उनकी देखरेख में यह अभियान चलाया जा रहा है. उन्होंने वैक्सीन लगवाने के बाद कहा कि वैक्सीन सुरक्षित है और इसे लेकर घबराने की जरूरत नहीं है.

  बीएमसी अधिकारी सुरेश काकानी ने भी वैक्सीन लगवाई.

उन्होंने कहा कि मुंबई में कोरोना संक्रमण पर काबू पा लिया गया है. अब तक यहां दो चरणों में 2 लाख 65 हजार वैक्सीन डोज के स्टॉक आए हैं. अब तक  75,751 लोगों को  कोरोना वैक्सीन लगाई गई है. इनमें 72,388  स्वास्थ्यकर्मी और 3,363  फ्रंटलाइन वर्कर शामिल हैं. उन्होंने कहा कि मुंबई में लोकल सर्विस शुरू करने के बाद भी कोरोना को लेकर स्थिति काबू में है. हालांकि अब भी कोरोना को लेकर जारी गाइडलाइंस का पालन करने की जरूरत है.