भारत में लगातार दूसरे दिन कोविड-19 के दो लाख से अधिक नए मामले सामने आए और इस बीच, केंद्र सरकार ने शुक्रवार को स्वदेशी टीके ‘कोवैक्सीन’ के उत्पादन को दस गुना बढ़ाकर सितंबर तक 10 करोड़ खुराक तक पहुंचाने का संकल्प दोहराया है.

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने आज वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए 11 राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ कोरोना वायरस (Coronavirus) की बिगड़त स्थिति पर अहम बैठक की. कांग्रेस पार्टी द्वारा देश के कुछ हिस्सों में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की कमी होने के आरोपों से इतर स्वास्थ्य मंत्री ने एक बार फिर दावा किया है कि देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है. उन्होंने अपने इस दावे को लेकर कुछ डाटा भी शेयर किया है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘कई राज्‍यों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्‍या तेजी से बढ़ रही है, जिसे देखते हुए वेंटीलेटर की पर्याप्‍त व्‍यवस्‍था की जा रही है.’

‘वैक्सीन की कमी नहीं’

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, ‘देश में आज सुबह तक राज्यों को वैक्सीन की 14 करोड़ 15 लाख डोज सप्लाई की गई हैं. वेस्टेज को मिलाकर सब राज्यों ने लगभग 12 करोड़ 57 लाख 18 हजार वैक्सीन की डोज का इस्तेमाल किया है. इस समय राज्यों के पास एक करोड़ 58 लाख डोज हैं और सप्लाई के अंदर वैक्सीन की 1 करोड़ 16 लाख 84 हजार डोज हैं. वैक्सीन की कोई कमी नहीं है.

‘बढ़ेगा वैक्सीन का उत्पादन’

भारत में लगातार दूसरे दिन कोविड-19 के दो लाख से अधिक नए मामले सामने आए और इस बीच, केंद्र सरकार ने शुक्रवार को स्वदेशी टीके ‘कोवैक्सीन’ के उत्पादन को दस गुना बढ़ाकर सितंबर तक 10 करोड़ खुराक तक पहुंचाने और एंटीवायरल दवा रेमडेसिविर के निर्माण में तेजी लाने के लिए योजनाओं की शुरुआत करते हुए और मेडिकल ऑक्सीजन के भंडार को भी बढ़ाने के निर्देश दिए.

देश में कोविड-19 महामारी के तेजी से बढ़ते मामलों के मद्देनजर पीएम नरेन्द्र मोदी ने चिकित्सा श्रेणी की ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने की विस्तार से समीक्षा की और इसके उत्पादन में तेजी लाने का संकल्प दोहराया.