राजधानी दिल्ली में फिर से करवाने अपना पेअर पसारना शुरू कर दिया है . फिर से कोरोना मरीज़ो की संख्या बढ़ने लगी है . दिल्ली सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 6,842 नए कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं. यह आंकड़ा एक दिन के लिहाज से अभी तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है.

कुछ दिन पहले दिल्ली के स्वस्थ्य मंत्री ने दिल्ली वासियों को सम्बोधित करते कहा था की कोरोना मरीज़ो की संख्या फिर से बढ़ने लगी है तो ऐसे में मास्क का नियमित इस्तेमाल करे . दिल्ली में पहली बार covid – 19 के 6800 से ज्यादा मामले सामने आये . बता दें पिछले दिन मंगलवार को दिल्ली में संक्रमण के 6,725 नए मामले सामने आए थे. हालांकि, दिल्ली में बुधवार को 5,797 कोरोना मरीज ठीक होकर घर लौट गए, वहीं 24 घंटे में कोरोना के 51 मरीजों ने दम तोड़ दिया .

कोरोना की मृत्यु दर की बात करे तो राष्ट्रीय स्तर पर यह दर 1 .49 है जबकि दिल्ली में 1 .69 फीसदी है . वहीं, संक्रमण दर 11.29 फीसद हो गई है. राजधानी में रोजाना आ रहे आंकड़ों को देखें तो यहां मृत्यु दर और ज्यादा बढ़ सकता है.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने निगरानी प्रणाली को मजबूत करने की बात कही है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में महामारी की वर्तमान स्थिति को ‘तीसरी लहर’ कहा जा सकता है. इस बीच निगरानी को मजबूत करने के लिए बाजार एवं भीड़भाड़ वाले अन्य स्थानों पर लक्षित कोविड-19 जांच करना शुरू किया गया है.

जब उनसे यह सवाल किया गया कि दिल्ली में कोविड-19 के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं जबकि अन्य स्थानों पर उसमें गिरावट नजर आ रही है, तो उन्होंने कहा, ‘हम जबरदस्त तरीके से जांच कर रहे हैं और संपर्क का पता लगा रहे हैं. ये ही वजह हो सकते हैं कि रोजाना मामले अधिक हैं.