भारतीय बाजारों में सोने और चांदी की कीमतें आज फिर बढ़ गई हैं। एमसीएक्स पर अक्तूबर का सोना वायदा 300 रुपये बढ़कर 56143 रुपये प्रति 10 ग्राम के नए स्तर पर पहुंच गया। चांदी वायदा 1,750 रुपये यानी 2.3 फीसदी बढ़कर 77,802 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। पिछले सत्र में सोने की वायदा कीमत में 1.3 फीसदी यानी 720 रुपये प्रति ग्राम की वृद्धि हुई थी, इंट्राडे हाई 56,079 रुपये प्रति 10 ग्राम था, जबकि चांदी 5.6 फीसदी यानी 4,100 रुपये प्रति किलोग्राम उछल गई थी। भारत में, इस साल सोना 44 फीसदी ऊपर है।

वैश्विक बाजारों में, सोने ने फिर अपना रिकॉर्ड तोड़ा। अधिक प्रोत्साहन की संभावना और अमेरिका-चीन के तनाव की वजह से सोने की मांग को बढ़ावा मिला है। हाजिर सोना 0.3 फीसदी की तेजी के साथ 2,068.32 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। वहीं चांदी 30 डॉलर पर बंद हुई। इसमें 2.6 फीसदी की तेजी आई।

इसके अतिरिक्त कमजोर अमेरिकी डॉलर से भी सोने की कीमतों को समर्थन मिला, जससे यह अन्य मुद्राओं के धारकों के लिए कम महंगा हो गया। डॉलर इंडेक्स, जो छह अन्य मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की ताकत को मापता है, दो साल से अधिक कम था।

वैश्विक बाजारों में, कोरोना वायरस संकट, कम वास्तविक दरों, एक कमजोर डॉलर और भू राजनीतिक जोखिम के कारण इस साल सोने में 35 फीसदी से अधिक की तेजी आई है। बैंक ऑफ अमेरिका ने अपने पूर्वानुमान में कहा है कि 18 महीनों में सोना 3,000 डॉलर प्रति औंस तक पहुंच सकता है और 2021 में चांदी 35 डॉलर तक पहुंच सकती है।

इस बीच, भारत में आज सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की किस्त बंद हो रही है। निर्गम मूल्य 5,334 प्रति ग्राम तय किया गया है। ऑनलाइन आवेदन करने और ऑनलाइन भुगतान करने वालों को 50 प्रति ग्राम की छूट मिलती है।