छात्रों की परीक्षा तैयारियों (Test Preparations) में अपनी मौजूदगी को दोगुना करने के उद्देश्य से भारत के एजुटेक (EdTech) क्षेत्र में अग्रणी BYJU ने सोमवार को आकाश एजुकेशनल सर्विस लिमिटेड (AESL) के अधिग्रहण की पुष्टि की है.

विलय से संबंधित बातचीत को लेकर पूरे मामले से वाकिफ दो लोगों ने मिंट अखबार को बताया कि पिछले हफ्ते कैश और स्टॉक डील करीब 1 बिलियन डॉलर (900 मिलियन डॉलर से ज्यादा) की रही, जो भारत के एजुटेक क्षेत्र में सबसे कीमती डीलों मे से एक है.

अधिग्रहण के बाद आकाश एजुकेशनल सर्विस स्वतंत्र रूप से काम करेगी और संस्थापक जेसी चौधरी और आकाश चौधरी इसकी कमान संभालते रहेगे.

एजुटेक जगत में लगातार बढ़ते प्रतिस्पर्धा के बीच अधिग्रहण का उद्देश्य BYJU टेस्ट प्रेपरेशन में अपनी मौजूदगी को बेहतर करने का प्रयास है. इसके प्रतिस्पर्धी अनएकेडमी की तरफ से टेस्ट प्रेपरेशन के क्षेत्र में छह अधिग्रहण किए गए थे. साल 2020 में इंटरनेट क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमेजन इंडिया ने टेस्ट प्रपरेशन क्षेत्र में अमेजन एकेडमी बनाकर प्रवेश किया.

वर्तमान में देश के करीब 130 शहरों में आकाश के करीब 200 फिलिजकल लर्निंग सेंटर्स हैं. जो करीब डेढ लाख छात्रों को अपनी सेवाएं दे रहे हैं. आकाश एजुकेशन सर्विस लिमिटेड (AESL) के मैनेजिंग डायरेक्टर आकाश चौधरी का कहना है कि इसमें जबरदस्त अवसर है क्योंकि हर साल मेडिकल और आईआईटी परीक्षा में करीब 25 लाख छात्र बैठते हैं.

अधिग्रहण के बाद आकाश के और ज्यादा सेंटर्स खुल पाएंगे. इसके साथ ही, नए छात्रों को ऑफलाइन और ऑनलाइन तरीके से अपनी ओर आकर्षित किया जा सकेगा.