सोना 7 महीने में सबसे निचले स्तर पर बिक रहा है। अगले हफ्ते में भी सोने की कीमत उठने की उम्मीद नजर नहीं आ रही है सोमवार को जब बाजार खुलेगा तब सोने की कीमत पर क्या असर पड़ता है, इस पर पूरे देश की नजर है।

पिछले 5 दिनों में सोने की कीमत जरूर गिर गई हो लेकिन सोना अच्छे रिटर्न की पहचान है। रियल एस्टेट की तुलना में सोने ने काफी अच्छा रिटर्न दिया है। रियल एस्टेट की कीमतों में पिछले कुछ समय से ठहराव आ गया है। 2020 में गोल्ड ने सभी एसेट क्लास में सबसे अच्छा रिटर्न दिया था। बजट से पहले भी सोने की कीमतें लगातार उठ रही थीं लेकिन कस्टम ड्यूटी घटाने के बाद से गिरावट का दौर लगातार जारी है।

1 फरवरी के बाद से सोने की कीमत लगातार गिर रही है
29 जनवरी 49,830
1 फरवरी 48,745
2 फरवरी 48,537
3 फरवरी 47,976
4 फरवरी 47,544
5 फरवरी 47,३८०

बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोने और चांदी की कीमतों पर कस्टम ड्यूटी को 12.5 परसेंट से घटाकर 7.5 परसेंट कर दिया है। वित्त मंत्री ने ये कदम सोने की स्मगलिंग को रोकने लिए उठाया है। कस्टम ड्यूटी घटने से तो सोना सस्ता हो ही रहा है। इसके अलावा दुनिया के बाजार में जो हालात हैं उसका असर भी सोना-चांदी पर पड़ रहा है। आपको बता दें कि जुलाई 2019 में सरकार ने कस्टम ड्यूटी 7.5 फीसदी से 2.5 फीसदी बढ़ाकर 10 फीसदी कर दी थी जिसके बाद सोना-चांदी की कीमतें काफी बढ़ गई थीं। 12.5 परसेंट कस्टम ड्यूटी (Custom Duty) के ऊपर 3 फीसदी का जीएसटी अलग से लगता है. इस वजह से सोने-चांदी की कीमत काफी ज्यादा रहती हैं।