किसान आंदोलन का आज 11 वा दिन है. दिल्ली हरियाणा बॉर्डर पर हज़ारो – हज़ार की संख्या में किसान बॉर्डर पर जुटे है . किसानों का प्रदर्शन गाजीपुर बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर पर भी जारी है. इसके अलावा बुराडी ग्राउंड पर भी कुछ किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. किसान और सरकार के बिच पांच राउंड की मीटिंग पूरी हो गयी मगर सरकार अपनी बात से अब तक पीछे नहीं हटी .

किसानो ने 8 दिसंबर को भारत बंद रखने का एलान किया है . इसके साथ ही किसान और सरकार के बिच बातचित की अगली तारिक 9 दिसंबर को रखी गयी है .सबकी निगाएं 9 दिसंबर की बैठक पर टिकी है . किसानो के तरफ से ये भी कहा गया की ये हमारी आखिरी मीटिंग होगी इसके बाद हम कभी बात नहीं करेंगे केंद्र सरकार से क्योंकि सरकार सिर्फ हमे तारिक पे तारिक देती आ रही है हल निकल नहीं रहा .

बॉक्सर विजेंदर सिंह ने कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों का समर्थन किया है. किसानों के समर्थन में विजेंदर सिंह सिंधु बाॉर्डर पहुंचे हैं. यहां पर उन्होंने कहा कि यदि किसान की मांग सरकार नहीं मांगती है और खेती से जुड़े काले कानूनों को वापस नहीं लेती है तो वे अपना राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड वापस कर देंगे. बता दें कि राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड देश का सर्वोच्च खेल पुरस्कार है.

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने भी चेतावनी भरे स्वर में कहा की – अगर सरकार ने किसानों की मांगों पर विचार नहीं किया तो ये आंदोलन सिर्फ दिल्ली तक सीमित नहीं रहेगा. पवार ने कहा कि सरकार को किसानों की मांगों पर परिपक्वता दिखानी चाहिए.