नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। बदलते लाइफस्टाइल, बढ़ते तनाव और खान-पान की बदलती आदतों ने कम उम्र में ही ब्लड प्रेशर की बीमारी का शिकार बना दिया है। हाइपरटेंशन आपके खान-पान की गड़बड़ी से पनपने वाली बीमारी है, अगर इसे वक्त पर कंट्रोल नहीं किया जाए तो कई बड़ी परेशानियों का सबब बन सकती है। हाई ब्लड प्रेशर आपकी पूरी बॉडी के सिस्टम को प्रभावित कर सकता है। इसका असर आपकी आंखों की रोशनी कम कर सकता है, गुर्दे में ख़राबी, स्ट्रोक या दिल की धड़कन रुक जाने जैसी समस्याएं भी पैदा कर सकता है। बढ़ते बीपी को कंट्रोल करने के लिए हेल्दी डाइट बेहद जरूरी है। आइए जानते हैं कि हाइपरटेंशन के मरीज अपनी डाइट में किन-किन चीजों को शामिल करें जिससे उनका ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहे।

साबुत अनाज को करें अपनी डाइट में शामिल:

साबुत अनाज में पौटेशियम और मैग्नीशियम होता है जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है। दिन में कम से कम दो से तीन बार साबुत अनाज का सेवन करने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है। साबुत दाने में चावल और ओट्स के साथ साबुत अनाज, गेहूं के टुकड़े, जौ और साबुत गेहूं वाले ब्रेड में फ़ैट की मात्रा कम होती है। ये अनाज फाइबर से भरपूर होते है साथ ही आपकी अच्छी सेहत के लिए भी फायदेमंद है। आप इन चीजों को अपनी डाइट में शामिल करेंगे तो आपका बीपी नॉर्मल रहेगा।

सब्जियों को करें अपनी डाइट में शामिल:

बीपी को कंट्रोल रखने के लिए स्क्वैश या कद्दू, रतालू और चुकंदर को अपनी डाइट में शामिल करें। टमाटर, गाजर और ब्रॉकोली, पालक, पत्ता गोभी और शलजम, साग, जैसी पत्ते वाली सब्ज़ियों को अपनी डाइट में शामिल करें। इसके इस्तेमाल से आपका बीपी कंट्रोल में रहता है। वहीं सलाद में ऑलिव-ऑइल या बालसैमिक सिरका की कुछ बूंदें मिलाने से न सिर्फ़ स्वाद बढ़ता है बल्कि इससे कोलेस्ट्रॉल लेवल में भी कमी आती है। डिब्बा बंद सब्जियों के खाने से परहेज करें।

फलों में करें इन चीजों को शामिल:

आप नाश्ते में सेब, नाशपाती का सेवन करें। सेब फैट की मात्रा कम करता और बीपी को कंट्रोल रखता है। फलों के सेवन से डायस्टोलिक और सिस्टोलिक बल्ड प्रेशर कंट्रोल रहता है। अनार के बीज, किशमिश, ख़ुबानी और बेरी में बहुत ज़्यादा पोषक तत्व होते हैं इनका सेवन करें।

वाइट मीट का करें सेवन:

मीट में प्रोटीन, विटामिन B, आयरन और ज़िंक की अच्छी मात्रा पाई जाती है। सैल्मन जैसी फ़ैटी मछली में ओमेगा-3 फ़ैटी एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जिससे आपके ब्लड प्रेशर में सुधार हो सकता है। बिना चर्बी वाले मांस का इस्तेमाल करें। आप अपनी डाइट में वाइट मीट का भी इस्तेमाल करें। इनमें वसा कम और विटामिन, मिनरल और ओमेगा-3 ज़्यादा होता है, जिससे ब्लड प्रेशर में कमी लाने और ख़ून के थक्के बनने से बचाव करने में मदद मिलती है।

बीज और फली: 

मैग्नीशियम से भरपूर बादाम, काजू, कद्दू के बीज और सूरजमुखी के बीज जैसी चीज़ें बीपी को कंट्रोल करने में आपकी मदद करती है। फ़ाइबर से भरपूर अलसी में ओमेगा-3 फ़ैटी एसिड भी पाया जाता है, जो शरीर की सूजन कम करने में मददगार है।

डार्क चॉकलेट:  

थोड़ा सी डार्क चॉकलेट ब्लड प्रेशर को कम करने में आपकी मदद कर सकती है। आप सही डार्क चॉकलेट का  सीमित मात्रा में सेवन करें जो आपके बीपी को कंट्रोल में रखें।