पश्चिम बंगाल में बीजेपी विधायक देवेंद्र नाथ रे की कथित हत्या के मामले में केंद्रीय जांच ब्‍यूरो जांच की मांग‌ वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को सुनवाई बंद कर दी. सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता को कहा कि यह मसला हाईकोर्ट देख चुका है और फैसला दे चुका है. दोबारा सुनवाई की ज़रूरत नहीं है. अगर मृतक का परिवार हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील करता है तो हम देखेंगे.

याचिकाकर्ता की ओर से कहा गया कि विधायक की पत्नी ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. इस मामले को भी उसी याचिका के साथ टैग कर दें, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वो याचिका आएगी तब देखेंगे.

वहीं, पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से याचिका का विरोध करते हुए कहा गया कि कलकत्ता हाईकोर्ट ने मामले पर विचार किया है. मामले में पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी की गई है. हाईकोर्ट ने कहा है कि सामान्य तरीके से मामले की स्वतंत्र जांच के आदेश नहीं दिया जा सकता. पिछले साल 13 जुलाई को विधायक राय फंदे से झूलते मिले थे. याचिका में कहा गया है कि विधायक की हत्या हुई थी और इसमें सत्ताधारी टीएमसी के लोग शामिल हैं. इसलिए, पुलिस हत्या को आत्महत्या बता रही है.