सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में घायल 24 जवानों को बीजापुर अस्पताल लाया गया है. वहीं सात जवानों को उपचार के लिए रायपुर भेजा गया है.  कोबरा (coBRA) कमांडो  के एक जवान का शव बरामद किया गया है जिसे एयरलिफ्ट कर जगदलपुर भेजा गया है.

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सल हमले में  सुरक्षाबलों के 21 जवान अब भी लापता हैं. जवानों की तलाश में आज सुबह फिर से सर्च अभियान शुरू किया गया है. सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में घायल 24 जवानों को बीजापुर अस्पताल लाया गया है. वहीं सात जवानों को उपचार के लिए रायपुर भेजा गया है.  कोबरा (coBRA) कमांडो  के एक जवान का शव बरामद किया गया है जिसे एयरलिफ्ट कर जगदलपुर भेजा गया है. सुरक्षा बलों का दावा है कि 15 से ज़्यादा नक्सली  बीजापुर इनकाउंटर में ढेर हुए हैं.

इससे पहले शनिवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, मुठभेड़ में 5 जवान शहीद हो गए थे. जिसमें 3 जवान DRG और 2 जवान सीआरपीएफ के हैं. वहीं मुठभेड़ में 9 नक्सलियों के भी मारे जाने की खबर थी. बस्तर आइजी सुंदरराज पी ने कोबरा बटालियन के एक जवान की शहादत की बात कही थी.डीआईजी (नक्सल ऑपरेशन) ओपी पॉल ने घटना को लेकर बताया कि पांच जवान शहीद हैं जबकि 12 अन्य जवान घायल हुए हैं.एनकाउंटर साइट से महिला नक्सली का भी शव बरामद किया गया है.

बस्तर के आईजी पी सुंदरराज ने बताया था कि शुरुआती सूचना के मुताबिक कम से कम 9 नक्सली मारे गए हैं और 15 के करीब घायल हैं. हमें इसकी पुष्टि करने में थोड़ा और वक्त लगेगा. हमारे हिसाब से वहां 250 नक्सली मौजूद थे.

सीआरपीएफ डीजी का छत्तीसगढ़ दौरा

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले के बाद डीजी सीआरपीएफ कुलदीप सिंह का छत्तीसगढ़ दौरे पर जा रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक डीजी सीआरपीएफ हालात का जायजा लेने पहुंच रहे हैं. बीजापुर में हुए ऑपरेशन के बाद गृह मंत्रालय ने डीजी सीआरपीएफ को लोकेशन पर जाने के निर्देश दिए थे. गृह मंत्री अमित शाह ने डीजी सीआरपीएफ को बीजापुर भेजने के साथ ही उन्होंने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री से भी बात कर जवानों के बारे में हालचाल जान रहे हैं

पीएम मोदी ने प्रकट की संवेदना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों के शहीद होने पर शोक जताया है. पीएम मोदी ने कहा कि जवानों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जाएगा. ट्वीट कर पीएम मोदी ने लिखा है, “मेरी संवेदनाएं छत्तीसगढ़ में शहीद हुए जवानों के परिजनों के साथ है. वीर शहीदों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है.”

मुठभेड़ के बाद बुलाई गई आपात बैठक

नक्सलियों संग मुठभेड़ की घटना के बाद सुरक्षाबलों के शीर्ष अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई गई. बैठक में डीजीपी डीएम अवस्थी,  स्पेशल डीजी (एंटी नक्सल ऑपरेशन) अशोक जुनेजा और अन्य सीनियर अधिकारी इस बैठक में शामिल हुए थे. यह बैठक रायपुर में हुई थी.न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के तररेम हुई घटना को लेकर डीएम अवस्थी ने कहा कि इस घटना में पांच जवान शहीद हुए हैं जबकि 10 जवान घायल हुए हैं.