बंगाल पुलिस ने दावा किया है कि केंद्रीय बलों की फायरिंग में कूचबिहार में चार लोगों की मौत हो गई. सितालकुची में घटना तब हुई जब क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) पर उपद्रवियों द्वारा कथित रूप से हमला किया गया.

पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के मतदान के बीच कई जगहों से हिंसक झड़प की खबरें आईं. कूचबिहार के सितालकुची में बीजेपी और टीएमसी के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए. इस झड़प में कई लोग घायल हो गए. पुलिस ने लाठीचार्ज कर किसी तरह हालात पर काबू पाया. वहीं बूथ नंबर 285 में मतदान केंद्र के बाहर बम फेंके गए और गोलीबारी हुई. पोलिंग बूथ के बाहर फायरिंग में वोट डालने आए युवक की मौत हो गई.

इस बीच बंगाल पुलिस ने दावा किया है कि केंद्रीय बलों की फायरिंग में कूचबिहार में चार लोगों की मौत हो गई. आज सुबह 10 बजे के आसपास सितालकुची में घटना तब हुई जब क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) पर मतदान क्षेत्र का चक्कर लगाते हुए उपद्रवियों द्वारा कथित रूप से हमला किया गया.

बताया गया कि उपद्रवियों ने क्यूआरटी के वाहन को नुकसान पहुंचाया, जिसके बाद सुरक्षाकर्मियों द्वारा कई राउंड फायर किए गए. जिसमें 4 लोगों की जान चली गई. वहीं, TMC ने दावा किया है कि बूथ नंबर 5/126 पर हुई इस घटना में हमीदुल हक, मनीरूल हकम समीयुल हक और अजमद हुसैन की मौत हुई है.

इस बीच चुनाव आयोग घटना को लेकर डीईओ कूचबिहार से एक घंटे के भीतर रिपोर्ट मांगी है. उधर, पश्चिम बंगाल के एडिशनल डायरेक्टर जनरल जगमोहन ने फोन पर बताया कि 4 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है. सीआईएसफ के जवानों ने गोली चलाई है. गोली तब चलाई गई जब उनपर ग्रामीणों ने हमला कर दिया था.

वहीं, बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के दौरान हुगली में बीजेपी उम्मीदवार लॉकेट चटर्जी की कार पर हमला किया गया. इस हमले में बीजेपी उम्मीदवार लॉकेट चटर्जी की कार के शीशे टूट गए. उनके सुरक्षाकर्मियों ने किसी तरह उन्हें मौके से निकाला. चटर्जी ने इस हमले का आरोप टीएमसी के लोगों पर लगाया है. वहीं, हुगली में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को कवर कर रहे मीडिया की गाड़ियों पर भी स्थानीय लोगों ने हमला किया.

गौरतलब है कि बीते दिन ही हावड़ा में बीजेपी तो उत्तर बंगाल के कूचबिहार जिले में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के उम्मीदवार पर जानलेवा हमले की घटना सामने आई थी. दोनों ही दलों ने अपने-अपने उम्मीदवारों पर हुए हमले के लिए एक-दूसरे पर आरोप लगाया था.

दक्षिण हावड़ा विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार रंतिदेव सेनगुप्ता 10.30 बजे के करीब घर लौट रहे थे तभी उनकी गाड़ी पर अज्ञात लोगों ने नारेबाजी करते हुए हमला बोल दिया. बीजेपी उम्मीदवार इस हमले में बच गए, उनकी गाड़ी को नुकसान पहुंचा. बीजेपी उम्मीदवार रंतिदेव सेनगुप्ता ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के उकसाने पर इस तरह के कार्य किए जा रहे हैं.

दूसरी तरफ, उत्तर बंगाल के कूचबिहार जिले की माथाभंगा विधानसभा सीट से टीएमसी के उम्मीदवार गिरींद्रनाथ बर्मन पर भी हमले का आरोप सत्ताधारी दल की ओर से लगाया गया. आरोप है कि बर्मन पर माथाभंगा के घोषाडांगा ग्राम पंचायत में बीजेपी के लोगों ने बर्बरतापूर्वक हमला कर दिया.