किसान आंदोलन को आज 12 दिन हो चुके हैं , इस आंदोलन के चलते सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल सिंधु बॉर्डर पर किसानो के बीच पहुंचे। अरविन्द केजरीवाल ने भारत बंद के समर्थन में साथ होने का एलान किया।

दिल्ली सीएम अरविन्द केजरीवाल ने किसानो की मांगो का समर्थन करते हुए कहा की किसानो का मुद्दा और किसानो की मांगे दोनों ही जायज़ है, हमारी पार्टी और दिल्ली की सरकार किसानो की इस मुसीबत में उनके साथ हैं। जब किसान बॉर्डर पर आए थे, तो केंद्र और दिल्ली पुलिस ने हमसे दिल्ली के 9 स्टेडियम जेल बनाने के लिए परमिशन मांगी थी। अरविन्द केजरीवाल ने कहा की हमारी पार्टी पर दबाव बनाया गया था परमिशन देने के लिए , लेकिन हमने कोई परमिशन नहीं दी।

हमारी सरकार किसानो की सेवा में लगातार लगी हुई है , मैं सेवादार के तौर पर आया हूं और किसानों की सेवा करने आया हूं। किसान अन्नदाता है , कड़ी मेहनत करके अनाज उगाता है , एसी परिस्तिथि में हम सबको किसानो के साथ खड़ा होना चाहिए।