भारत की दिग्गज रियल एस्टेट कंपनी मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड (Macrotech Developers) यानी पूर्व की लोढ़ा डेवलपर्स का आईपीओ 7 अप्रैल को खुलने वाला है. कंपनी 2500 करोड़ रुपये जुटाने के लिए यह IPO लॉन्च कर रही है.

Lodha Developers के इस आईपीओ में निवेशक 7 अप्रैल से 9 अप्रैल तक निवेश कर पाएंगे. कंपनी ने इस IPO के लिए इश्यू प्राइस बैंड 483-486 रुपये तय किया है.  इस आईपीओ के लिए लॉट साइज 30 शेयरों का है.

लोढ़ा डेवलपर्स के आईपीओ में रिटेल निवेशक के लिए 35 फीसदी शेयर आरक्षित होंगे. जबकि 50 फीसदी शेयर क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIPs) के लिए रिजर्व हैं. वहीं नॉन-इंस्टीट्यूशनल बायर्स के लिए 15% शेयर रिजर्व हैं. इसके अलावा 30 करोड़ रुपये के शेयर कंपनी के कर्मचारियों के लिए रिजर्व हैं.

कंपनी ने IPO के लिए करीब 10 इंवेस्टमेंट फर्म्स को अपनी लीड मैनेजर बनाया है, जिसमें एक्सिस कैपिटल लिमिटेड, जेपी मॉर्गन इंडिया और कोटक महिंद्रा कैपिटल ग्लोबल कोऑर्डिनेटर्स और बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं. साथ ही ICICI Securities, Edelweiss फाइनेंशियल सर्विसेज, IIFL सिक्योरिटीज, जेएम फाइनेंशियल, Yes सिक्योरिटीज, SBI कैपिटल मार्केट्स और बैंक ऑफ बड़ौदा कैपिटल मार्केट्स लीड मैनेजर हैं.

लोढ़ा ग्रुप की पहचान मुंबई की ट्रंप टॉवर्स और लंदन की ग्रोसेवनर स्कॉयर जैसे लग्जरी प्रोजेक्ट्स है. IPO से मिले पैसों में से कंपनी 1500 करोड़ रुपये अपना कर्ज घटाने में खर्च करेगी. साथ ही 375 करोड़ रुपये जमीन खरीद और सामान्य कॉर्पोरेट जरूरतों को पूरा करने में होगा.

लोढ़ा ग्रुप ने इससे पहले दो बार आईपीओ लॉन्च करने का प्रयास किया था. कंपनी ने सबसे पहले साल 2009 और फिर 2018 में IPO लाने की कोशिश की थी. लेकिन खराब मार्केट के सेंटीमेंट की वजह से कंपनी ने कदम वापस खींच लिए थे.