बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन मुंबई स्थित नानावती अस्पताल में कोरोना वायरस से जंग लड़ रहे हैं। वह और अभिषेक बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। ऐसे पहला मौका नहीं है जब अमिताभ बच्चन किसी खतरे का सामना कर रहे हैं। 38 साल पहले भी उन्हें खतरनाक पेरशानी का सामना करना पड़ा था। इतना ही नहीं उनकी सलमाती की कामना करने के लिए जया बच्चन डॉन वरदा राजन के मंदिर तक पहुंच गई थीं।

यह किस्सा फिल्म कुली से जुड़ा है। आज इस फिल्म को रिलीज हुई 38 साल हो चुके हैं। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन, कादर खान, वहीदा रहमान, पुनीत इस्सर और ऋषि कपूर मुख्य भूमिका में थे। इस फिल्म के एक सीन को फिल्माने के दौरान अमिताभ बच्चन पुनीत इस्सर के हाथों बुरी तरह के घायल हो गए थे। उनके पेट की झिल्ली और छोटी आंत फट गई थी।

इसके बाद बिग बी को मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। इस दौरान उनका लगभग आठ घंटों तक ऑपरेशन चला और फिर बहुत लंबा इलाज चला था। अमिताभ बच्चन की हालत इतनी नाजुक हो गई थी कि देशभर में मौजूद उनके हजारों फैंस सलामती की दुआ मांगने लगे थे। वहीं अमिताभ बच्चन के लिए उनकी पत्नी और अभिनेत्री जया बच्चन खुद सिद्धि विनायक मंदिर गई थीं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पति की सलामती के लिए जया बच्चन मुंबई के ताकतवर और मशहूर डॉन में से एक वरदा राजन के मंदिर में भी गई थीं। ताकि जल्द अमिताभ बच्चन की तबीयत में सुधार हो सके। मशहूर लेखक एस हुसैन जैदी की किताब ‘डोंगरी से दुबई तक: मुंबई माफिया के छह दशक’ के अनुसार धार्मिक व्यक्ति होने के कारण डॉन वरदा राजन माटुंगा स्टेशन के बाहर गणेश पांडाल पर अनाप-शनाप ढंग से पैसे खर्च करता था।