देश में कोरोना संक्रमण की बेकाबू रफ्तार से हालात चिंताजनक हो गए हैं. हर दिन कोरोना मामलों का रिकॉर्ड टूट रहा है. देश में छह महीने बाद (195 दिन) पहली बार रिकॉर्ड 89 हजार से ज्यादा नए कोरोना केस आए हैं. 24 मार्च से लगातार 50 हजार से ज्यादा कोरोना केस आ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 89,129 नए कोरोना केस आए और 714 लोगों की जान चली गई है. हालांकि 44202 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. इससे पहले 19 सितंबर को 89 हजार से ज्यादा (92,605) केस आए थे.

एक समय ऐसा था जब देश में कोरोना संक्रमण की संख्या घटने लगी थी. इस साल 1 फरवरी को 8,635 नए कोरोना केस दर्ज किए गए थे. एक दिन में कोरोना मामलों की ये संख्या इस साल सबसे कम थी. देश में अबतक कोरोना वायरस के लिए कुल 24 करोड़ 70 लाख सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 11 लाख सैंपल कल टेस्ट किए गए.

आज देश में कोरोना की स्थिति-

  • कुल कोरोना केस– एक करोड़ 23 लाख 92 हजार 260
  • कुल डिस्चार्ज– एक करोड़ 15 लाख 69 हजार 241
  • कुल एक्टिव केस– छह लाख 58 हजार 909
  • कुल मौत– एक लाख 64 हजार 110
  • कुल टीकाकरण– 7 करोड़ 30 लाख 54 हजार 295 डोज दी गई

महाराष्ट्र में हालात सबसे ज्यादा खराब
देश में हर दिन सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले महाराष्ट्र में आ रहे हैं और सबसे ज्यादा मौत भी यहीं हो रही है. महाराष्ट्र में कल कोरोना वायरस संक्रमण के 47,827 नए मामले सामने आए. महामारी की शुरुआत के बाद से राज्य में एक दिन में सबसे ज्यादा मामले आए हैं. वहीं संक्रमण से और 202 मरीजों की मौत होने के साथ ही राज्य में महामारी से मरने वालों की कुल संख्या बढ़ कर 55,379 पहुंच गई. राज्य में अब तक संक्रमित हुए रोगियों की कुल संख्या 29,04,076 हो गयी है.

मुंबई में 8,844 नए मामले सामने आए. महाराष्ट्र में कल 24,126 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. इस तरह कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या राज्य में बढ़ कर 24,57,494 हो गई है. महाराष्ट्र में अभी 3,89,832 एक्टिव मरीज हैं, जिनका इलाज जारी है.

सात करोड़ से ज्यादा कोरोना टीका लगे

देश में 16 जनवरी को कोरोना का टीका लगाए जाने की अभियान की शुरुआत हुई थी. 2 अप्रैल तक देशभर में 7 करोड़ 30 लाख 54 हजार 295  कोरोना डोज दिए जा चुके हैं. बीते दिन 30 लाख 93 हजार 795 टीके लगे. वैक्सीन की दूसरी खुराक देने का अभियान 13 फरवरी से शुरू हुआ था. 1 अप्रैल से 45 साल से ऊपर से सभी लोगों को टीका लगाया जा रहा है.

देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.33 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट करीब 94 फीसदी है. एक्टिव केस बढ़कर 5 फीसदी हो गया है. कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का 5वां स्थान है.

कुछ राज्यों में कोरोना से एक भी मौत नहीं

कोरोना से सबसे ज्यादा मौत महाराष्ट्र में हुई है. लेकिन देश के कुछ राज्य ऐसे भी हैं, जहां कोरोना से अब एक भी संक्रमित शख्स की मौत नहीं हो रही है. ये जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों से मिली है. ये कुछ राज्य हैं- अंडमान व निकोबार, अरुणाचल प्रदेश, असम, बिहार, दादरा नगर हवेली, लद्दाख, लक्षद्वीप, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम, त्रिपुरा आदि.