प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार को तमिलनाडु-केरल के दौरे पर हैं। मोदी ने सेना को आत्मनिर्भर भारत की ओर कदम बढ़ाते हुए 118 अर्जुन टैंक (MK-1A) सेना को सौंपा। ये टैंक DRDO ने 8400 करोड़ की लागत से तैयार किया है। बंगाल में चुनाव से पहले पीएम मोदी का यह अहम दौरा है। दूसरी ओर, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी असम में अपनी पार्टी के चुनावी कैंपेन की शुरुआत करेंगे।

पीएम ने चेन्नई में अपने संबोधन से पूर्व कहा- वणक्कम चेन्नई, वणक्कम तमिनाडु। पीएम ने पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने अर्जुन टैंक की सलामी ली। युद्धक टैंक का निरीक्षण करने के बाद उन्होंने कहा कि स्वदेशी रूप से निर्मित अर्जुन टैंक को राष्ट्र को समर्पित करते हुए गौरव की अनुभूति हो रही है। पीएम ने कहा कि वे चेन्नई आकर बहुत खुश हैं। उन्होंने एक मंत्र देते हुए कहा कि ‘मोर ड्रॉप मोर क्रॉप’ के मंत्र को याद रखें। ये बातें उन्होंने सिंचाई परियोजनाओं पर घोषणाओं के दौरान कही। पीएम नरेंद्र मोदी इसके बाद लगभग 3:30 बजे कोच्चि पहुचेंगे और यहां भी कई परियोजनाओं को लॉन्च करेंगे।

आज ‘जल’ दुनिया का सबसे अहम मुद्दा:

पीएम मोदी ने कहा कि आज दुनिया भर में जल सबसे अहम मुद्दा है। तमिलनाडु ने सदियों से जल संचयन को बढ़ावा दिया है। अब बेहद पुरानी सिंचाई परियोजनाओं का आधुनिकीकरण होगा। पीएम ने कहा कि हमें पानी के संरक्षण के लिए जो कुछ भी करना पड़ेगा वो करेंगे।

कई परियोजनाओं का उद्घाटन हुआ:

पीएम मोदी ने चेन्नई में कई परियोजनाओं का उद्घाटन किया। उन्होंने बताया कि बजट में चेन्नई के मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए 6300 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही उन्होंने मेट्रो रेल फेज-1 एक्सटेंशन का उद्घाटन किया। पीएम ने आईआईटी मद्रास के डिस्कवरी कैंपस की आधारशिला रखी। यह कैंपस चेन्नई के पास थय्युर में बनाया जाएगा। चेन्नई बंदरगाह से एक नई रेल परियोजना का भी उद्घाटन किया। इसके अलावा सिंचाई परियोजना की भी आधारशिला रखी। रेलवे इलेक्ट्रिफिकेशन का उद्घाटन किया।

कोच्चि में इन विकास कार्यों का होगा उद्घाटन:

पीएम मोदी साढ़े 3 बजे के करीब कोच्चि पहुंचकर 6 हजार करोड़ की लागत वाले BPCL की प्रोपलीन डेरिवेटिव्स पेट्रोकेमिकल्स परियोजना का उद्घाटन करेंगे। इसके अलावा कोचीन पोर्ट पर 25 करोड़ रुपए की लागत वाले अंतरराष्ट्रीय क्रूज टर्मिनल सागरिका का उद्घाटन करेंगे। वहीं कोचीन पोर्ट के रिनोवेशन और एक्सटेंशन वर्क की आधारशिला भी रखेंगे।