सुशांत सिंह राजपूत और नवाजुद्दीन सिद्दीकी के बीच अच्छी दोस्ती थी। दोनों एक-दूसरे के काम और एक्टिंग से काफी प्रभावित भी थे। नवाजुद्दीन सिद्दीकी ‘सोनचिड़िया’ और ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बक्शी’ जैसी फिल्मों के लिए सुशांत सिंह राजपूत की तारीफ भी कर चुके हैं। नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने हाल ही में एक इंटरव्यू में सुशांत के निधन की खबर पर हैरानी जताते हुए कहा कि वह विचारों से भरे हुए थे। वह अपनी जिंदगी के साथ ऐसा कैसे कर सकते हैं?

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बॉलीवुड हंगामा से बातचीत में कहा, ‘वह लाइफ से भरपूर था। वह एक पैदाइशी बातूनी था। वह लोगों को बातचीत में शामिल करना पसंद करता था। वह शब्दों से जादू बिखेर सकता था। वह किसी भी विषय पर बात कर सकते था। मैं उससे कई मौकों पर मिला। हम वास्तव में एक-दूसरे को पसंद करते थे। मैं हर बार उससे मिलने के दौरान पॉजिटिव वाइप्स महसूस करता था। यही कारण है कि उनके अचानक चले जाने की खबर पर मुझे विश्वास करना मुश्किल था। सुशांत सिंह राजपूत अपनी लाइफ के साथ ऐसा कैसे कर सकते थे? वह जीवन और विचारों से भरा हुआ था।’