सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को बांद्रा में अपने आवास पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही है. डेढ़ महीने से अधिक समय बीत चुका है और अब तक 56 लोगों की स्टेटमेंट दर्ज की जा चुकी है. पर सुशांत के पिता ने मुंबई पुलिस की जांच पर अशंतोष जताते हुए बिहार के पटना में ‘आत्महत्या के लिए उकसाने’ का केस दर्ज कराया और इसकी जांच के लिये बिहार पुलिस की एक टीम मुंबई पहुंची.

क्या हुआ था 8 जून की रात ?
8 जून की रात को मुंबई के मालवणी इलाके में रीजंट गैलेक्सी बिल्डिंग में दिशा और उनके होने वाले पति रोहन रॉय और दिशा के स्कूल फ्रेंड्स, दीप अजमेरा, इंद्रनील वैद्य, हिमांशू, रेषा पडवल, इंद्रनील और दिशा की बर्थडे की पार्टी मनाने के लिए इकट्ठा हुए थे. पार्टी जोर शोर से शुरू हुई थी कि रात के 11.45 को दिशा को लंडन से उसकी दोस्त अंकिता का फोन आया. फोन पर बात करने के बाद से दिशा थोड़ी डिप्रेस दिखीं.

दिशा के दोस्तों ने उसका मूड ठीक करने की कोशिश कि लेकिन दिशा का मूड ठीक नहीं हुआ. दिशा कि 2 बड़ी डील पूरी नहीं हो पाई थी. साथ ही पारिवारिक कारणों से दिशा निराश थीं. दिशा कॉर्नर स्टोन कंपनी में बतौर सेलिब्रिटी मैनेजर काम करती थीं. पिछले 8 से 10 महीनों से दिशा कई सेलिब्रिटीज के इवेंट्स और एडवर्टाइजमेंट और उनके अन्य कार्यक्रम हैंडल कर रही थीं. पर पिछले दो से तीन महीने में दिशा के दो बड़े डील जो वीवो कंपनी और क्योर फिट जिम के साथ थी, वो पूरी नहीं हो पाई, जिसकी वजह से कंपनी को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा और इसी से दिशा निराशा थीं. साथ ही पारिवारिक कारणों से भी दिशा निराश थीं.अंकिता से फोन पर बात होने के बाद दिशा बेडरूम में अकेली थीं. कुछ देर बाद रोहन दिशा को बुलाने बेडरूम में गया तो उसे दिशा कहीं दिखी नहीं. खिड़की से नीचे देखा तो नीचे दिशा खून में लथपथ गिरी पड़ी थीं, जिसके बाद दिशा के दोस्तों ने उसे फौरन शताब्दी हॉस्पिटल पहुंचाया जहां, डॉक्टरों ने दिशा को मृत घोषित कर दिया.जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और जांच शुरू कर दी. दोस्तों से पूछताछ के बाद दिशा के निराश होने की वजह पता चली और साथ ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नीचे गिरने की वजह से सर में और शरीर के अन्य भागों में गंभीर चोट आने की वजह से दिशा की मौत हुई यह स्पष्ट हो गया. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखी. पर उसमें भी पुलिस को सब सामान्य दिखा. पुलिस ने एडीआर रजिस्टर कर आगे की जांच शुरू कर दी.