जैसे के आप सभी जानते है की इस समय सुशांत को इन्साफ दिलाने के लिए हर कोई अपनी पूरी कोशिश कर रहा है और इसी को ध्यान में रखते में हु अब सीबीआई जांच भी हो रही है ।पिछले काफी दिनों से सीबीआई सुशांत के दोस्तों और घर में काम करने वाले लोगो के साथ पूछताछ कर रही है और हर रोज कोई न कोई नया खुलासा होता जा रहा है ।हाल ही में एक न्यूज़ चैनल के स्टिंग ऑपरेशन के दौरान सुशांत के कमरे का ताला तोडने वाले शख्स ने बहुत ही बड़ा खुलासा किया हैं

ताले की चाबी बनाने वाले शख्स मोहम्मद रफी शेख ने बताया की जैसे ही उन्होंने सुशांत के कमरे का दरवाजा खोला उसी दौरान वह मौजूद चार लोगो ने उन्हें वह से तुरंत जाने को कह दिया था ।रफ़ी ने बताया की 14 जून को सिद्धार्थ पिठानि ने उन्हें फ़ोन कर के बुलाया था उन्होंने आगे बताया की वह न तो सिद्धार्थ को जानते थे और न ही उन्हें ये मालुम था की यह घर किसी बॉलीवुड सितारे का है सुशांत के कमरे में computerize key वाला ताला था। उस ताले को तोड़ने के लिए हथोड़ा और छुरा का इस्तेमाल करना पड़ा था।

चाबी वाले ने ही इस बात को मीडिया के सामने रखा था की उस दौरान उनके अलावा चार लोग मौजूद थे ।रफ़ी शैख़ बताते है की उन्हें सिद्धार्थ ने कहा था की ताला तोड़ते समय अगर अंदर से कोई आवाज़ आये तो काम रोक देना ।जैसे ही रफ़ी ने ताला तोड़ा उसी समय सिद्धार्थ ने 2000 देकर वह से जाने को कह दिया था वह मौजूद लोगो ने रफ़ी को अंदर कुछ भी नहीं देखने दिया था

रफ़ी ने बताया की जिस दिन यह घटना हुई उस दौरान कोई भी घबराया हुआ नहीं था सब नॉर्मल थे और सब ये ही चाहते थे की जैसे तैसे ये ताला खुल जाए ।स्टिंग ऑपरेशन के दौरान वीडियो में रफ़ी ने बतया की उस दौरान किसी को भी पैसो की कोई टेंशन नहीं लग रही थी वह सब बस सुशांत के कमरा खुलवाना चाहते थे ।अपना काम कर के रफ़ी वापस अपने घर चले गए थे और कुछ देर बाद उनके पास पुलिस का कॉल आया था जिसमे उन्हें पुलिस ने कहा की तुम जहा ताला तोड़कर आये हो वह फिर से आजाओ ।जब रफ़ी वापस सुशांत के घर वापस पहुंचे तब उन्हें पूरी घटना के बारे में मालूम चला ।रफ़ी ने बताया की अभी तक उनके पास किसी बयान देने के लिए किसी का भी कॉल नहीं आया है और अगर आएगा भी तो वह तुरंत जाएंगे और पूरा सहयोग करेंगे