एंटीलिया केस में गिरफ्तार किए गए एनकाउंटर स्पेशलिस्ट सचिन वजे के लिए 100 दिनों के लिए मरीन ड्राइव में एक पांच सितारा होटल में कमरा बुक किया गया था. एनआईए की जांच में पता चला है कि वजे मुंबई के इस होटल के कमरा नंबर 1964 में रह रहा था और यहां से एक कथित जबरन वसूली रैकेट चला रहा था. बता दें, एंटीलिया और जांच एजेंसी द्वारा दर्ज की गई हत्या के मामले में डीसीपी रैंक तक के 35 अधिकारियों से NIA  द्वारा पूछताछ की जा चुकी है।

नआईए का दावा है कि वजे ने कथित तौर पर इस नरीमन प्वाइंट पर स्थित होटल में कमरा एक जाली आधार कार्ड का इस्तेमाल करके बुक किया था. कमरा वजे के फर्जी नाम सुशांत सदाशिव खामकर के नाम पर बुक किया गया था. एनआईए के अनुसार, 16 फरवरी को वजे एक इनोवा में इस होटल में गए और एक लैंड क्रूज़र में 20 फरवरी को बाहर गए. इन दोनों वाहनों को अब एनआईए ने जब्त कर लिया है.

सचिन वाजे केस : NIA को अब एक ‘मिस्ट्री वुमन’ की तलाश, कैश काउंटिंग मशीन के साथ दिखी थी

एनआईए के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है, ‘एक व्यापारी ने इस होटल में कमरा 100 दिनों के लिए 12 लाख रुपये में बुक किया था. वजे कुछ विवाद में इस व्यवसायी की मदद कर रहा था. बुकिंग एक ट्रैवल एजेंट के माध्यम से की गई थी.’ उनके अनुसार इस साल फरवरी में यहां रहने के दौरान नरीमन प्वाइंट में मुंबई क्राइम ब्रांच में ड्यूटी करने की भी सूचना मिली.

एनआईए के एक वरिष्ठ अधिकारी बताते हैं, ‘तारीखें भी मेल खाती हैं जब वह और उनकी टीम के सदस्य लाइसेंस उल्लंघन के लिए रात में मुंबई के विभिन्न प्रतिष्ठानों पर छापे मार रहे थे.’

एंटीलिया केस : क्या सचिन वझे ने ली दाऊद इब्राहिम के पुराने साथियों से मदद? टेलीग्राम मैसेज से उठे सवाल

एनआईए की टीम पहले ही होटल के कमरे का निरीक्षण कर चुकी है, जहां वह फरवरी 2021 में रह रहा था. एनआईए ने होटल के सीसीटीवी फुटेज को भी जब्त कर लिया है ताकि जांच की जा सके कि होटल में उससे कौन कौन मिलने आता था.

उनके अनुसार अब तक एनआईए ने औपचारिक रूप से पूछताछ की है और अनौपचारिक रूप से मुंबई पुलिस के कई 35 पुलिस अधिकारियों से बात की है। उन्होंने कहा, “हमने कुछ बयान दर्ज भी किए हैं, और कुछ मौखिक भी हैं. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में उनमें से कुछ को गिरफ्तार किया जाएगा.