हमारे भारतीय समाज में जब किसी लड़की की शादी हो जाती है, तब शादी के बाद उससे यही उम्मीद की जाती है कि वह किसी दूसरे पुरुष की तरफ आंख उठा कर भी नहीं देखेगी, फिर भले ही पति एक दो अफेयर क्यों न कर ले। जी हां शादी के बाद जहाँ एक तरफ पत्नी के अफेयर को बुरी नजर से देखा जाता है। वही दूसरी तरफ पति के अफेयर्स को उतना बुरा नहीं समझा जाता। हालांकि हम ये नहीं कह रहे कि शादी के बाद महिलाओं को एक्स्ट्रा मैरिटल अफे;यर करना चाहिए, लेकिन हम आपको बता दे कि एक सर्वे के अनुसार भारतीय पुरुषों से ज्यादा महिलाओं के एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर होने का खुलासा हुआ है।

दरअसल एक्स्ट्रा मैरिटल डेटिंग एप ग्लीडन की एक रिसर्च के अनुसार ज्यादातर महिलाओं ने इस बात को स्वीकार किया है कि उनका उनके पति के इलावा भी अन्य पुरुषों के साथ रिलेशन रहा है। वही इस श्रेणी में पुरुषों की संख्या कम है। इसके इलावा ग्लीडन की मार्केटिंग डायरेक्टर सोलेन पैलेट का ये कहना है कि रोमांस करने और बेवफाई के मामले में भारतीय महिलाएं ज्यादा खुले विचारों वाली होती है। हालांकि ये बात हर महिला पर लागू नहीं होती, क्यूकि ऐसी बहुत सी भारतीय महिलाएं है जो केवल अपनी पति से ही प्रेम करती है। अब अगर हम इस एप की बात करे तो ग्लीडन लोगों को ऐसा माहौल देता है, जिससे उनके रिश्ते पर भी बुरा असर नहीं पड़ता और वे उनकी तरह सोच रखने वाले किसी व्यक्ति के साथ नयी लव स्टोरी भी शुरू कर सकते है।

पचास फीसदी शादीशुदा लोगों ने स्वीकार की एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर की बात
बता दे कि ये रिसर्च ऑनलाइन करवाया गया था, जिसमें कई बड़े शहरों के करीब पंद्रह सौ लोगों ने हिस्सा लिया था। इस रिसर्च में भारत के पचास फीसदी विवाहित लोगों ने इस बात को माना है कि उनका अपने पार्टनर के इलावा भी किसी दूसरे व्यक्ति के साथ भी इंटिमेट रिलेशन रहा है। इसके साथ ही 46 फीसदी लोगों ने वन नाईट स्टैंड की बात को माना है। यहाँ गौर करने वाली बात ये है कि कुछ भारतीय लोगों का मानना है कि एक समय पर दो लोगों से प्यार नहीं किया जा सकता। तो वही कुछ भारतीय लोग ये भी मानते है कि धोखा देने के बावजूद भी उनका अपने पार्टनर के प्रति प्यार कम नहीं होता। जिसके चलते वे अपने पार्टनर को माफ़ करने में यकीन रखते है।

एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के बारे में लोगों की सोच है ये
जी हां आपको जान कर हैरानी होगी कि सैंतीस फीसदी लोगों का ये मानना है कि अपने पार्टनर की बेवफाई के बारे में पता चलने के बाद वे बिना सोचे समझे उन्हें माफ़ कर देंगे और वे अपने पार्टनर से भी यही उम्मीद करते है। जब कि चालीस फीसदी लोगों का ये कहना है कि माफ़ करना या न करना ये उस समय की परिस्थिति पर ही निर्भर करता है। फिलहाल तो सर्वे के अनुसार भारतीय पुरुषों से ज्यादा महिलाओं का एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर होता है, लेकिन क्यूकि ये सर्वे केवल पंद्रह सौ लोगों द्वारा ही करवाया गया था, तो ऐसे में हम किसी भी भारतीय महिला या पुरुष के प्यार पर सवाल नहीं उठा सकते। यानि हो सकता है कि इस सर्वे में हिस्सा लेने वाले लोगों की सोच बाकी भारतीय लोगों से काफी अलग हो।