पलपल संवाददाता, जबलपुर. मध्यप्रदेश के सोनकच्छ देवास से रक्षा-बंधन का त्यौहार मनाने ट्रक में बैठकर जबलपुर आ रहे एक परिवार के चार सदस्य  नादनेर गाडरवारा जिला नरसिंहपुर में सड़क दुर्घटना का शिकार हो गए. हादसे में चारों की मौके पर ही मौत हो गई. हादसे को देख राह चलते लोगों सहित आसपास के लोग भी रुक गए, जिनकी सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए शासकीय अस्पताल पहुंचाते हुए परिजनों, रिश्तेदारों को सूचना दी. मौके पर पड़ी राखियां, नए कपड़े देख लोगों की आंखे नम हो गई.

पुलिस के अनुसार सोनकच्छ देवास निवासी वीरेन्द्र मिजाजी उम्र 35 वर्ष की ससुराल जबलपुर में है, इस बार रक्षाबंधन पर वीरेन्द्र की पत्नी पूजा ने अपने भाई को राखी बांधने की इच्छा जताई, जिसपर वीरेन्द्र राजी हो गया और पूजा व दोनों बच्चों को लेकर जबलपुर जाने एक आईल के डिब्बों से भरे ट्रक की छत पर बैठ गए, रात होने के कारण चारों ने ट्रक की छत पर ही बिस्तर लगाए और सो गए. आज सुबह 7 बजे के लगभग ट्रक जब नादनेर  तहसील गाडरवारा जिला नरसिंहपुर से आगे बढ़ रहा था, तभी चालक अपना संतुलन खो बैठा, जिसके चलते ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया, हादसे में वीरेन्द्र, पूजा व दोनों बच्ची आईल के ड्रम व ट्रक क ी चपेट में आ गए, जिससे चारों के शरीर पर गंभीर चोटें आने के कारण मौके पर ही मौत हो गई. हादसे को देख वाहन चालक सहित आसपास के लोग भी पहुंच गए, जिन्होने डिब्बों के नीचे परिवार के चारों सदस्यों को खून से लथपथ हालत में दबे देखा तो स्तब्ध रह गए, पुलिस को सूचना देते हुए चारों को बाहर निकाला गया, लेकिन उस वक्त तक चारों की मौत हो चुकी थी. हादसे के बाद इस मार्ग पर जाम के हालात निर्मित हो गए थे, दोनों ओर वाहनों की लम्बी लाइन लगी रही. वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए शासकीय अस्पताल पहुंचाकर प्रकरण दर्ज कर लिया. पुलिस ने मृतक वीरेन्द्र के परिजनों, रिश्तेदारों सहित अन्य परिचितों को सूचना दी, खबर है कि हादसे की सूचना मिलते ही जबलपुर से भाई सहित अन्य लोग मौके पर पहुंच गए थे.