योगी आदित्यनाथ ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रदेश में पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को सदैव बनाए रखने के लिए संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए सभी उपाय सुनिश्चित किए जाएं। कोरोना टेस्टिंग का कार्य पूरी क्षमता से संचालित करें, संदिग्ध मामलों में अनिवार्य रुप से आरटीपीसीआर टेस्ट किए जाएं साथ ही फोकस टेस्टिंग पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए है।

4 अप्रैल तक स्कूल रहेंगे बंद
कोरोना की आयी दूसरी लहर की रफ्तार को देखते हुए मुख्यमंत्री ने कक्षा एक से आठ तक के सभी पार्षद एवं निजी विद्यालयों को रविवार 4 अप्रैल 2021 तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं। साथ ही अन्य विद्यालयों में कोरोना की गाइडलाइंस का पालन सुनिश्चित कराए जाने के लिए कहा है।

टीकाकरण के लिए सरकारी कर्मियों को मिलेगा अवकाश
वैक्सीनेशन कराने वाले सरकारी कर्मियों को टीकाकरण की तिथि पर अवकाश अनुमन्य किया जाए। निजी सेक्टर के कर्मियों हेतु अवकाश की व्यवस्था भी कराई जाए।डेडीकेटेड अस्पतालों को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश आकलन करते हुए चिकित्सालयों की संख्या में वृद्धि की जाए। इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को प्रभावी ढंग से संचालित करने के निर्देश दिए गए हैं