तापसी पन्नू के घर मिलीं 5 करोड़ नकद लेनदेन की रसीदें:

फिल्ममेकर अनुराग कश्यप और बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू के घर और दफ्तर में दूसरे दिन भी केंद्रीय एजेंसियों की छापेमारी जारी रही. आई-टी डिपार्टमेंट आज भी सर्च और सर्वे के कामों को अंजाम दे रहा है. यह सर्च और सर्वे का काम 3 मार्च को शुरू किया गया था.

मुंबई की 2 प्रमुख फिल्म प्रोडक्शन कंपनियों, एक लीडिंग एक्ट्रेस और दो टैलेंट मैनेजमेंट कंपनियों के परिसरों में सीबीडीटी यह सर्च और सर्वे कर रहा है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के स्पॉक्स ने बताया कि यह अभियान मुंबई, पुणे, दिल्ली और हैदराबाद में चलाया जा रहा है.

विभिन्न स्थानों पर स्थित 28 परिसरों को कवर किया जा रहा है जिनमें रेजिडेंस और ऑफिस दोनों शामिल हैं. खोज के दौरान, फिल्म के रियल बॉक्स ऑफिस कलेक्शन की तुलना में अग्रणी फिल्म प्रोडक्शन हाउस ने अपनी आय को कम दिखाने की कोशिश की.

सीबीडीटी ने अपने सर्वे में ऐसे सबूत हासिल किए हैं, जिनसे यह साबित होता है कि लगभग 300 करोड़ रुपये की आय को छुपा लिया गया.
सर्च के दौरान इन प्रोडक्शन हाउस के इनकम और शेयर में बड़े पैमाने पर हेराफेरी के सबूत मिले हैं. इन्कम टैक्स को 350 करोड़ रुपए की टैक्स गड़बड़ी का पता चला है. 350 करोड़ रुपए के बारे में कंपनी अधिकारी कोई जवाब नहीं दे पाए. 350 करोड़ रुपए की टैक्स गड़बड़ी के सबूत मिले हैं. जांच जारी है.

तापसी पन्नू के नाम पर 5 करोड़ की कैश रिसिप्ट रिकवर हुई है, जिसकी जांच जारी है. इन सब के अलावा 20 करोड़ की और टैक्स गड़बड़ी के सबूत भी मिले हैं. इसी तरह की गड़बड़ी तापसी पन्नू के खिलाफ भी मिली है.
दोनों टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी यानि फैंटम और क्वान से बड़ी रकम का डिजिटल डाटा ईमेल, व्हाट्सएप चैट्स, हार्ड डिस्क के रूप में सीज किया गया है. 7 बैंक कॉलर मिले हैं. उन्हें भी सीज किया गया है. सर्च ऑपरेशन और जांच लगातार जारी है.