कोविड -19 प्रोटोकॉल पर शख्ती के लिए पकिस्तान सरकार उठा रही है बड़े कदम प्राइमरी स्कूलों के बच्चो के लिए इसे खासतौर पर किया जायेगा लागु। पकिस्तान में बड़े कॉलेज – स्कूल खुलने के बाद अब बच्चो के लिए भी स्कूल खोले जा रहे है। पकिस्तान ने देश के शैक्षण‍िक संस्थानों को तीन फेज़ में खोलने का लिया था निर्णय। जिसके तहत पहले चरण में 15 सितम्बर से कॉलेज युनिवर्सिटी के साथ 9 से 12 के छात्रों के लिए स्कूल खोले गए इसके बाद 23 सितम्बर से 8वीं से 6 छात्रों के लिए स्कूल खोले गए जिसके बाद ३० सितम्बर से अब बच्चो के लिए स्कूल खोले जा रहे है

प्राइमरी कक्षा के बच्चो को कोरोना महामारी के प्रकोप से बचाने के लिए कुछ कायदे कानून अपनाये गए है स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग फ़ोलो कराने के लिए मैदान में सर्किल बनाये गए है बच्चो को उस ही चलना होगा इसके साथ स्कूलों को पूरी तरह से सेनेटाइस किया है वही एक कक्षा में सिर्फ १५ बच्चो को बैठने की ही इज़ाज़त है। पकिस्तान सरकार ने कहा स्कूल खुलने के २ हफ्ते बाद ही सभी बच्चो का कोरोना टेस्ट भी किया जायेगा जो बच्चो के साथ साथ शिक्षकों कर्मचारियों को भी शामिल जायेगा।

बच्चो को बीमारी से बचाने के लिए सरकार दवारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन न करने वाले स्कूलों पर की जाएगी शख्त करवाई