पंजाब के मोहाली के एक आवासीय स्कूल में उस वक्त हड़कंप मच गया जब 42 छात्र समेत कुल 45 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए. यह स्कूल टंगोरी में स्थित है. मोहाली के जिला कलेक्टर ने बताया कि पॉजिटिव कोरोना मरीजों को आइसोलेशन के लिए कोविड केयर सेंटर में भेज दिया गया है. मोहाली जिला कलेक्टर ने आगे बताया कि उस आवासीय स्कूल के बाकी लोगों को घर भेजा जा रहा है. इसके साथ ही, स्कूल के डायरेक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है.

गौरतलब है कि पंजाब में बढ़ते कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए यहां के सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग  और शिक्षण संस्थानों को 30 अप्रैल तक बंद रखने का ऐलान किया था. इसके साथ ही, 10वीं तक परीक्षाएं भी रद्द कर दी गई हैं और 12वीं की परीक्षाओं को स्थगित किया गया है. इसके अलावा, राज्य सरकार ने 5वीं, 8वीं और 10वीं के छात्रों को बिना परीक्षा के ही अगली कक्षा में प्रोन्नत करने का फैसला कर चुकी है.

पंजाब में बढ़ रहे कोरोना के मामले

पंजाब में सोमवार को पिछले 24 घंटे के दौरान 6 हजार 318 नए केस सामने आए हैं, जबकि 98 लोगो की मौत हो गई. हालांकि, इस दौरान 4 हजार 438 कोरोना संक्रमित मरीज इस बीमारी से ठीक हुए हैं. राज्य में अब कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3 लाख 45 हजार 366 हो गई है. इधर, पंजाब में भी भारी ऑक्सीजन की किल्लत पैदा हो गई है. राज्य की भयावह स्थिति के बारे में खुद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ट्वीट करते हुए देश के गृहमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री से जल्द ऑक्सीजन देने का अनुरोध किया है.

अमरिंदर सिंह ने सोमवार को ट्वीट करते हुए कहा, “कोविड-19 के बढ़ते मामलों के चलते राज्य में ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर संकट पैदा हो गया है. केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन से अनुरोध है कि वे रोजाना का कोटा बढ़ाएं और यह पंजाब को ऑक्सीजन आपूर्ति कराना सुनिश्चित करें.”