देश में नोटबंदी को कई साल हो गए लेकिन अब भी पुराने नोटों के मिलने का सिलसिला जारी है. गुजरात में गोधरा के पोलन बाज़ार इलाक़े की एक सोसायटी में छापेमारी के दौरान 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट पकड़े गए हैं. यह रकम करोड़ों में बताई जा रही है.

एटीएस की गुप्त सूचना पर मंगलवार को गोधरा स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने छापा मारकर करोड़ों रुपये के पुराने 500 और 1000 रुपये के नोट बरामद किए. गुजरात में यह पहला मामला है जब नोटबंदी के बाद इतनी भारी मात्रा में पुरानी करंसी पकड़ी गई है.

इस मामले में एटीएस ने गोधरा से दो लोगों को गिरफ्तार किया है जबकि एक फरार हो गया. गुजरात एटीएस के सूत्रों के मुताबिक अभी भी पुरानी करंसी बदलने की कोशिशें की जा रही हैं.

जब्त रकम इतनी अधिक थी कि पुलिस को नोट को गिनने के लिए मशीन का इस्तेमाल करना पड़ा. तकरीबन 5 करोड़ की पुरानी करंसी बताई जा रही है. बताया जा रहा है कि और भी पुरानी करंसी बरामद की जा सकती है.

पकड़े गए आरोपी फारूक इशाक और जुबेर इदरीश हयात का कहना है कि ये पैसे वो अब भी 25 से 35 फीसदी कमीशन के साथ नोट बदलवाने का वाले थे. जबकि इदरीश सुलेमान हयात फिलहाल फरार है.