असम में विधानसभा चुनाव हो रहे है जिसके चलते पूरे राज्य में आर्दश चुनाव आचार संहिता लागू है। इस बीच कांग्रेस ने चुनाव आचार संहिता का उलंघन करने पर असम के मुख्यमंत्री‚ सर्बानंद सोनेवाल‚ बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष और 8 प्रमुख अखबारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। कई अन्य क्षेत्रिय नेताओं के नाम भी इस मुकदमे में शामिल है।

आरोप है कि समाचार के शक्ल में छपे इस विज्ञापन के जरिए भाजपा ने ऊपरी असम की उन सभी सीटों पर अपनी जीत का दावा किया है जहां 27 मार्च को पहले चरण में मतदान किया गया था। असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी के विधि विभाग के अध्यक्ष नीरज वोरा ने बताया कि आदर्श आचार संहिता जन प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 126 ए के प्रावधानों और 26 मार्च को जारी चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों के कथित उल्लंघन के लिए रविवार की रात प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री‚ बीजेपी अध्यक्ष‚ प्रदेश इकाई के प्रमुख तथा पार्टी के अन्य सदस्यों ने दूसरे और तीसरे चरण के मतदाताओं के प्रभावित करने के लिए पहले से सुनियोजित साजिश के तहत क्षेत्र के सभी अखबारों में पहले पन्ने पर समाचार पत्र के रूप में विज्ञापन दिया है। जिसमें दावा किया गया है कि भाजपा पॉपुलेशन की सभी सीटों पर जीत हासिल करेगी। वोरा कहना है कि बीजेपी के इस कृत्य से मतदाता प्रभावित हुए है। वही आदर्श चुनाव आचार संहिता का उलंघन भी किया गया है।