ईशांत शर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के चौथे दिन बड़ी उपलब्धि हासिल की है. ईशांत टेस्ट क्रिकेट में 300 विकेट लेने वाले तीसरे भारतीय तेज गेंदबाज बन गए हैं. भारतीय तेज गेंदबाजों में कपिल देव और जहीर खान यह मुकाम हासिल कर चुके हैं.

ईशांत ने दूसरी पारी में डेनियल लॉरेंस को एलबीडब्ल्यू आउट कर अपने 300 विकेट पूरे किए. दाएं हाथ के इस गेंदबाज ने अपने 98वें टेस्ट में यह उपलब्धि हासिल की है. टेस्ट शुरू होने से ईशांत के नाम 297 विकेट थे. 32 साल के ईशांत शर्मा भारत की तरफ से 300 विकेट लेने वाले छठे गेंदबाज हैं.अनिल कुंबले 619 विकेट लेकर इस लिस्ट में टॉप पर हैं. कपिल देव (434 विकेट), हरभजन सिंह (417 विकेट), रविचंद्रन अश्विन ( अब तक 383 विकेट) और जहीर खान (311 विकेट) भी इस क्लब में शामिल हैं. ईशांत शर्मा को जारी सीरीज में अपना 100वां टेस्ट खेलने का भी मौका मिल सकता है. अगले दो टेस्ट मैचों में उतरते ही वह कपिल देव के बाद सौ टेस्ट खेलने वाले दूसरे भारतीय तेज गेंदबाज बन जाएंगे. कपिल देव ने भारत के लिए 131 टेस्ट मैच खेले थे. ईशांत भारत के लिए 100 टेस्ट खेलने वाले ओवरऑल 11वें क्रिकेटर बन जाएंगे. भारत के लिए सबसे अधिक टेस्ट खेलने का रिकॉर्ड मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के नाम है. सचिन ने भारत के लिए 200 टेस्ट मैच खेले, जो कि वर्ल्ड रिकॉर्ड है. ईशांत शर्मा ने 25 मई 2007 को बांग्लादेश के खिलाफ ढाका में अपना टेस्ट डेब्यू किया था. उस टेस्ट में ईशांत ने मशरफे मुर्तजा को आउट कर अपना पहला टेस्ट विकेट लिया था. अपने टेस्ट करियर में ईशांत ने 11 बार एक पारी में पांच या उससे अधिक विकेट और एक बार टेस्ट मैच में 10 विकेट लिये हैं. 14 साल के क्रिकेट करियर के दौरान ईशांत फिटनेस की समस्या से परेशान रहे हैं. चोट के चलते वह ऑस्ट्रेलिया दौरे से भी बाहर रहे थे